बम्हनीडीह। बे मौसम बरसात ने मौसम का मिजाज बदल दिया है,बदलते मौसम के साथ गांवो में संक्रमित बीमारियो ने भी दस्तक दी है,छोटी माता के नाम से जानी जाने वाली बीमारी के पनपने से ब्लाक के बीएमओ अलर्ट मोड में है। बम्हनीडीह विकासखंड अंतर्गत ग्राम सेमरिया में एक दर्जन से अधिक चिकन पॉक्स ( छोटी माता) मरीज बच्चे मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग के कान खड़े हो गए हैं।

एक ही गांव में एक साथ दर्जन भर से ज्यादा बच्चो के पीड़ित होने की सूचना मिलने पर तत्काल बीएमओ अजम्बर सिंह,बीपीएम सुरेश जैसवाल,सेक्टर सुपरवाइजर सुनील मैथ्यू, आरएमए कमल किशोर, सीएचओ प्रिया सहित अपनी टीम के साथ प्रभावित गांव में जाकर पीड़ित लोगों की जांच कर मरीज बच्चो का इलाज कर रहे है एवं संक्रमितो पर नजर बनाए हुए है।

छोटी माता (चिकन पॉक्स) एक वायरल संक्रमण व अत्यधिक संक्रामक बीमारी है यह बीमारी वेरिसला-जोस्टर नामक वायरस के कारण होती है।

इन गर्मियों में कहीं आपको जकड़ न ले चिकन पॉक्‍स रखें बचाव के लिए ये सावधानी

चिकन पॉक्स अब जानलेवा बीमारी नहीं है लेकिन यह काफी पीड़दायक रोग है। एक बार होने पर इसका असर सात दिनों तक काफी तीव्र रहता है। अन्य लोगों के भी संक्रमित होने की आशंका रहती है। मरीज को आइसोलेशन में रखना चाहिए। इसका टीकाकरण बच्चों में होता है लेकिन कभी-कभी उसके बाद भी यह रोग होने की आशंका रहती है। साफ-सफाई के अभाव में इस बीमारी फैलने की आशंका रहती है। आपकी थोड़ी सी सावधानी इन बीमारियों से बचाव कर सकती है।

Posted By: Manoj Kumar Tiwari

छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़