Janjgir Champa News: जांजगीर-चाम्पा। दिल्ली की पेस्टीसाइड कंपनी इंसेक्टीसाइड इंडिया लिमिटेड के जोनल और रीजनल मैनेजर ने रायगढ़ और जांजगीर जिले के व्यापारियों के साथ मिलकर कंपनी को तकरीबन 19 करोड़ रुपए की चपत लगा दी। मामले में खुलासा होने पर छत्तीसगढ़ के जांजगीर कोतवाली में कंपनी के जोनल मैनेजर, रीजनल मैनेजर और 16 व्यापारियों सहित 18 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया गया है।

कोतवाली टीआई लखेश केवट ने बताया कि के जोनल मैनेजर आरएस राठौर और रीजनल मैनेजर गंगासागर पंडा ने रायगढ़ और जांजगीर जिले के कीटनाशक दवा विक्रेताओं से मिलकर कंपनी को करोड़ों रुपये का चूना लगाया है। कंपनी से दवा मंगाकर व्यापारी उसे दूसरे व्यापारियों के पास बेच देते थे, लेकिन राशि जमा नहीं करते थे। कंपनी के जोनल और रीजनल मैनेजर की इसमें मिलीभगत थी। इस बात की जानकारी कंपनी के मार्केटिंग मैनेजर अखिलेश कुमार सिंह को हुई तो उन्होंने इसकी शिकायत एसपी पारूल माथुर से करते हुए जांच की मांग की।

मामले में तीन दिनों तक जांच होने के बाद पता चला कि इंसेक्टीसाइड इंडिया लिमिटेड कंपनी के जोनल मैनेजर आरएस राठौर, क्षेत्रीय प्रबंधक गंगा सागर पाण्डा तथा वितरक और डीलर मुकेश बीज भंडार किशन लाल अग्रवाल धर्मजयगढ़, देवांगन कृषि केंद्र चंद्रेश देवांगन चन्द्रपुर, कश्यप एग्रो एजेंसी दिनेश्वर कश्यप सेमरा, पटेल कृषि केंद्र रमाकांत पटेल गोर्रा रायगढ, श्रीराम एग्रोटेक विजय कुमार अग्रवाल जूट मिल रोड रायगढ़, सिद्धि कृषि सेवा केंद्र कृष्ण कुमार राठौर चांपा सिवनी, अग्रवाल स्टोर्स संतोष अग्रवाल बम्हनीडीह, बाल गोपाल ट्रेडिंग कंपनी यशंवत कुमार अग्रवाल जोतपुर बांदा रायगढ, बंसल एग्रो उमेश कुमार अग्रवाल सक्ती, अशोक ट्रेडर्स रवि अग्रवाल और ईश्वर प्रसाद स्टेशन रोड सक्ती, बालाजी ट्रेडर्स सौरभ अग्रवाल नैला, राधा रानी ट्रेडर्स, चेतन शर्मा बरगढ़ ओडीसा, किसान बीज भंडार रिंकु अग्रवाल सक्ती, नवरत्न अग्रवाल भंवरपुर महासमुंद, संजय अग्रवाल सुंदरगढ़ ओडीसा ने षडयंत्र रच कर धोखाधड़ी कर न्यास भंग कर इंसेक्टीसाइड इंडिया लिमिटेड कंपनी के लगभग 19 करोड़ रुपए का नुकसान पहुंचाया है।

शनिवार को मामले में कंपनी के मार्केटिंग डेह्वलपमेंट मैनेजर अखिलेश कुमार सिंह ने रिपोर्ट की। पुलिस ने जोनल मैनेजर आरएस राठौर, क्षेत्रीय प्रबंधक गंगा सागर पाण्डा सहित सभी 16 व्यापारियों के खिलाफ धारा 408, 409, 418, 420, 120 बी, के तहत अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

आरोपित व्यवसायियों से नहीं हो सका संपर्क

इस संबंध में नईदुनिया ने अन्य आरोपितों का भी पक्ष जानने के लिए उनसे संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी। इसे लेकर डीएसपी जितेंद्र चंद्राकर ने कहा कि उनके पास भी अन्य आरोपितों के मोबाइल नंबर नहीं हैं।

'हम कई सालों से व्यापार करते आ रहे हैं। पहली बार साजिश का शिकार हुए हैं , जांच में सच्चाई सामने आएगी।' - सौरभ अग्रवाल, संचालक, बालाजी ट्रेडर्स नैला

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan