पᆬोटो 4 जानपी 18 - पानी के लिए लगाई गई बाल्टी व टप की कतार

पᆬोटो 4 जानपी 19 - नगर पालिका के टैंकर से पानी भरता कालोनीवासी

सुबह से पानी के लिए बाल्टी व टप लेकर करते हैं इंतजार

जांजगीर - चांपा । (नईदुनिया न्यूज) । जो विभाग खेतों की प्यास बुझाता है वही सिंचाई विभाग अपने कर्मचारी व अधिकारियों की प्यास बुझाने में अक्षम में है। जल संसाधन विभाग के चांपा स्थित सिंचाई कालोनीवासी इन दिनों जल संकट से जूझ रहे हैं। किसी तरह नगर पालिका के टैंकर से वहां पानी पहुंच रहा है। विभाग ने कुछ साल पहले यहां पाइप लाइन बिझाकर टंकी का निर्माण भी कराया है मगर यह निर्माण अनियमितता की भेंट चढ़ गया है। इसके चलते लाखों रूपए का यह निर्माण व्यर्थ हो गया है।

जल संसाधन विभाग पर सिंचाई की जिम्मेदारी है। खेतों की सिंचाई के लिए नहर के अंतिम छोर तक वह पानी पहुंचाता है मगर उन्हीं के विभाग के अधिकारी - कर्मचारियों को पीने व निस्तार के लिए पानी नहीं मिल रहा है। नगर पालिका चांपा के श्यामा प्रसाद मुखर्जी वार्ड क्रमांक 25 में सिंचाई कालोनी स्थित है। यहां विभाग के अधिकारी - कर्मचारियों का आवास है। मगर कालोनी में पानी की किल्लत है। सुबह से एक - एक बुंद पानी के लिए चक्कर काटते हैं मगर सिंचाई विभाग के अधिकारी - कर्मचारियों को इससे कोई सरोकार नहीं है। ऐसा नहीं है कि इसके लिए विभाग को पᆬंड नहीं मिलता । तीन साल पहले यहां टंकी बनाकर पाइप लाइन का भी विस्तार किया गया है मगर जलापूर्ति नहीं होती। कोरोना काल में यहां के लोगों को दोहरा संकट है। नगर पालिका के टैंकर से कालोनी वासियों को पानी मिल रहा है। इस बार सप्ताहभर से यह समस्या बनी हुई है। जैसे ही पालिका का टैंकर पहुंचता है लोग पानी के लिए टूट पड़ते हैं। स्थिति तो यह है कि टैंकर पहुंचने से पहले से ही बाल्टी और टप की लाइन लग जाती है। कोरोना के डर और धूप से लोग भले ही लाइन में नहीं लगते मगर एक बाल्टी पानी के लिए लोगों को घंटो मशक्कत करना पड़ रहा है। कालोनी वासियों ने इस संबंध में अधिकारियों से कई बार चर्चा भी की है मगर अब तक उनकी समस्या का निराकरण नहीं हुआ है और रोज सुबह वे नगर पालिका के टैंकर की राह टकटकी लगाकर देखते हैं। यह कालोनी नगर पालिका के अंतर्गत नहीं है पिᆬर भी लोगों की समस्या को देखते हुए पालिका द्वारा जलापूर्ति की जा रही है। पर यह भी कितने दिनों तक चलेगा कहा नहीं जा सकता । कोलानीवासियों का कहना है कि अधिकारियों से गुहार लगाते थक गए। मगर उनकी ओर ध्यान देने वाला कोई नहीं है। इस भीषण कोरोनाकाल में जान बचाना कठिन हो गया है। ऐसे में अभी भी वे पानी के लिए मशक्कत कर रहे हैं।

'' सिंचाई कालोनी में नगर पालिका का टैंकर भेजकर जलापूर्ति की जा रही है। यह दुखद है कि जो विभाग खेतों की प्यास बुझाता है उसी विभाग के कर्मचारी गर्मी में प्यासे हैं । सिंचाई विभाग द्वारा कालोनी को भी नगर पालिका के नियंत्रण में नहीं दिया जा रहा है। न ही विभाग द्वारा वहां का जलसंकट दूर किया जा रहा है। यह विभाग व राज्य सरकार की नाकामी है।

पुरूषोत्तम शर्मा

पार्षद वार्ड क्रमांक 25

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags