जांजगीर। Janjgir News: राज्य से बाहर कमाने खाने गए मजदूरों को कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से वापस अपने गांव लौटना पड़ा। अपने गांवों तक लौटने के बावजूद मजदूर घरों तक वापस नहीं पहुंच पाए हैं। सरकारी क्वारंटाइन सेंटरों में उन्हें 14 दिनों के लिए रखा जा रहा है। बेहद असुरक्षित जगहों पर बनाए गए इन हजारों क्वारंटाइन सेंटरों में व्याप्त व्यापक अव्यवस्थाओं को लेकर लगातार खबरें आ रही हैं। मुंगेली के एक क्वारंटाइन सेंटर में एक मजदूर को सांप ने डस लिया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी।

जांजगीर में ही आज सुबह एक क्वारंटाइन सेंटर में महिला को सांप डंसने की खबर आई। महासमुंद के क्वारंटाइन सेंटर में प्रसव पीड़ा से औरत तड़पती रही और उसे कोई मदद नहीं मिली। प्रसव के बाद वहां एंबुलेंस पहुंची थी।

अब जांजगीर से एक ऐसी खबर आ रही है जो क्वारंटाइन सेंटरों पर ही सवाल उठाती है।यहां मजदूरों को परोसे जाने के लिए तैयार की गई दाल में छिपकली पड़ी मिली। इसके बाद यहां हंगामा मच गया। गनीमत थी कि दाल परोसे जाने से पहले ही एक मजदूर की इस पर निगाह पड़ गई और वह दाल फेंक दी गई।

आश्रय गाह के रूप में बनाए गए इन क्वारंटाइन सेंटरों में बदहाली की वजह से इन पर लगातार सवाल उठ रहे हैं। एक तरफ सरकार इन सेंटरों में टीवी और रेडियो जैसे मनोरंजन के साधन उपलब्ध कराने की बात कह रही है, तो दूसरी ओर मजदूरों के लिए बनाए जा रहे भोजन में इस तरह की लापरवाही सामने आना बेहद गंभीर मसला है।

मामला क्वारंटाइन सेंटर गोधना का बताया जा रहा है, जहां प्रवासी मजदूरों को रखा गया है। रात में भोजन के साथ परोसे गए दाल में छिपकली थी। इसे लेकर मजदूरों ने सेंटर में हंगामा मचाया। प्रवासी मजदूर महेश यादव पिता स्व फूलसाय का कहना है कि सेंटर प्रभारी द्वारा लापरवाही बरती जा रही है। दाल बनने के बाद उसमें छिपकली गिर गई थी। परोसे जाने के समय ही उसे देख लिया गया और फिर उसे फेंककर दोबारा दाल बनाकर मजदूरों को खाना दिया गया। गनीमत यह है कि दाल किसी ने खाई नहीं, वर्ना हालात कुछ और होते।

गोधना के पंचायत सचिव सियाराम सिंहसार्वा उल्टे उस मजदू रपर आरोप लगा रहे हैं। उनका कहना है कि महेश यादव कुछ दिनों से परेशान सेंटर में सभी को परेशान कर रहा है। उसी ने जानबूझकर छिपकली को मारकर दाल में डाल दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई है। बहरहाल इस बड़े मामले ने क्वारण्टाइन सेंटर में अव्यवस्था उजागर हुई है।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना