जांजगीर-चांपा। जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी गजेन्द्र सिंह ठाकुर ने गुरूवार को जिपं सभाकक्ष में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं की सिलसिलेवार समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने राज्य सरकार की महत्वकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा एवं बाड़ी (एनजीजीबी) एवं गोधन न्याय योजना पर जनपद पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारियों एवं संबंधित विभागीय अधिकारियों को नियमित रूप से मानीटरिंग करने और गोठानों का सतत रूप से निरीक्षण करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना एनजीजीबी के तहत बनाए गए गोठानों से स्व सहायता समूह की महिलाओं को नियमित रूप से रोजगार प्राप्त हो ऐसी कार्ययोजना तैयार की जाए। उन्होंने गोठान में मल्टी एक्टिविटी सेंटर स्थापित करने की सारी तैयारी करने कहा। उन्होंने कहा कि गोठान में समूह के लिए मुर्गी शेड, बकरी शेड, बतख शेड एवं मशरूम शेड तैयार किये जाए, ताकि अधिक से अधिक रोजगार प्राप्त हो सके। इसके अलावा गोधन न्याय योजना के तहत गोबर की खरीदी करने, वर्मी कम्पोस्ट, सुपर कम्पोस्ट तैयार करने के निर्देश भी दिए।

उन्होंने गोठान में गोबर की खरीदी को नियमित रूप से खरीदने के निर्देश दिए। उन्होंने गोठान में बाड़ी विकास के लिए उद्यान विभाग सहायक संचालक एवं जनपद सीईओ से तालमेल करते हुए बाड़ी विकास करने कहा। इस दौरान उन्होंने प्रगतिरत वर्मी कम्पोस्ट टैंक को जल्द से जल्द पूर्ण करने और गोबर से वर्मी कम्पोस्ट को तैयार करने कहा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में रबी सीजन की फसल किसानों द्वारा ली जाएगी इसलिए उन्हें खाद की जरूरत पड़ेगी इसके लिए किसानों को प्रेरित करते हुए खाद को तैयार कर बेचा जाए।

उन्होंने कहा कि नरवा विकास के तहत सभी गतिविधियों की गूगल एंट्री की जाए। इसके अलावा चारागाह में नेपीयर घास, गेहूं आदि लगाने कहा। सांसद, विधायक निधि से अपूर्ण, प्रगतिरत एवं पूर्ण हो चुके कार्यों की सिलसिलेवार समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि जो कार्य अब तक शुरू नहीं किये गये हैं, उन कार्यों को निरस्त करने के लिए प्रकरण भेजा जाए। 14 वें वित्त एवं 15 वें वित्त के तहत कार्यों की समीक्षा की। महात्मा गांधी नरेगा के अंतर्गत योजनाबद्ध तरीके से कार्य करें और अधिक से अधिक संख्या में मनरेगा जाबकार्डधारी परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराया जाए।

इस दौरान कोविड के नियमों का पालन जरूर किया जाए। इस दौरान स्वच्छ भारत मिशन के तहत सामुदायिक शौचालय निर्माण, निजी शौचालय निर्माण एवं हाइवे शौचालय निर्माण की समीक्षा की। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना एवं राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत समूहों की जानकारी जनपद पंचायतवार ली। बैठक में ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, कृषि विभाग, उद्यान विभाग सहित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local