जांजगीर - चांपा (नईदुनिया न्यूज)। विकलांग चेतना परिषद के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष एवं छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डा. विनय कुमार पाठक के मुख्य आतिथ्य, पं. हरिहर प्रसाद तिवारी की अध्यक्षता एवं डा. राघवेंद्र कुमार दुबे राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रांताध्यक्ष तुलसी साहित्य अकादमी, एके यदु, डीईओ कुमुदिनी द्विवेदी एवं राजेश अग्रवाल अध्यक्ष निराला साहित्य मंडल के विशिष्ट आतिथ्य में बैठक का आयोजन किया गया। डा. विनय कुमार पाठक ने कहा कि मानव सेवा में रत संस्था विकलांग चेतना परिषद की राष्ट्रीय संगोष्ठी मोपका बाईपास चौक में स्थित हास्पिटल के सभागार में 11 एवं 12 जून को आयोजित की जाएगी। इस अवसर पर जहां महत्वपूर्ण शोध पत्रों का पठन किया जाएगा वहीं विचार एवं काव्य गोष्ठी आयोजित की जाएगी। इस दो दिवसीय कार्यक्रम में देश भर से विद्वान साहित्यकारों की उपस्थिति रहेगी। उन्होंने जांजगीर चांपा के उपस्थित साहित्यकारों से कार्यक्रम में शामिल होने का आग्रह किया। विशिष्ट अतिथि डा. राघवेंद्र कुमार दुबे ने तुलसी साहित्य अकादमी के प्रांतीय समिति के गठन की जानकारी देते हुए कहा कि जांजगीर चांपा जिले में भी जिला समिति का गठन किए जाने के लिए भी बैठक आयोजित की गई है। अध्यक्षीय उद्बोधन में वरिष्ठ साहित्यकार पं हरिहर प्रसाद तिवारी ने प्रस्तावित किया कि साहित्यकार रविंद्र द्विवेदी को तुलसी साहित्य अकादमी के जिलाध्यक्ष का दायित्व दिया जाए । जिसका सभी ने समर्थन करते हुए सहयोग देने का आश्वासन दिया। विशिष्ट अतिथि कुमुदिनी द्विवेदी ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि दोनों ही महत्वपूर्ण कार्य में हम सभी का पूर्ण सहयोग रहेगा। इस अवसर पर कलेक्टर जीतेंद्र शुक्ला से भेंट करके आयोजन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया। बैठक का संचालन रविंद्र द्विवेदी ने एवं आभार प्रदर्शन दिनेश रोहित चतुर्वेदी ने किया। इस अवसर पर महेश राठौर, बोधी राम साहू , ज्ञानेश्वर सिंह राठौर , प्राध्यापक सरोज शर्मा, प्राध्यापक सुनीता राठौर, संतोष कश्यप, राजकुमार तिवारी, साहित्यकार उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close