डभरा (नईदुनिया न्यूज)। शासकीय महाविद्यालय डभरा में व्याप्त अव्यवस्था एवं अधिकारी कर्मचारियों पर मनमानी का आरोप लगाते हुए एनएसयूआई सक्ती के जिलाध्यक्ष खुशवंत सिंह चन्द्रा के नेतृत्व में छात्रों ने एसडीएम डभरा को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया गया है कि शासन द्वारा प्रवेश के लिए रैगिंग रोकने के लिए शपथ पत्र जमा करना होता है । जिसमें छात्रों के स्वयं के हस्ताक्षर से प्रमाणित करना है उसे बदल कर नोटरी का शपथ पत्र लिया जा रहा है जिसमें प्रत्येक छात्र छात्राओं को 100 रूपए आर्थिक भार पड़ रहा है। इसी तरह पूरे प्रदेश के महाविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया चल रही है और डभरा महाविद्यालय के प्राचार्य पिछले 15 दिनों से बिना किसी को चार्ज दिये बिलासपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज करा रहे हैं। छात्र छात्राओं को अन्य महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए टीसी की आवश्यकता पड़ती है परंतु प्राचार्य नहीं होने के कारण छात्र प्रवेश के लिए वंचित हो रहे हैं। पूर्व में आईटीआई डभरा के छात्रों को अस्थाई टीसी से प्रवेश दिया जाता था लेकिन इस वर्ष अस्थाई टीसी से प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। जिसे तत्काल शिथिल करने की मांग छात्रों ने की है। पूर्व में छात्रों ने क्लास रूम की कमी को लेकर आमरण अनशन आंदोलन किया था जिसके कारण तत्कालीन कलेक्टर एस भारतीदासन ने डीएमएफ मद से 32 लाख स्वीकृत कर क्लासरूम बनवाया था जिसे अब कार्यलय और स्टाफरूम के रूप में उपयोग किया जा रहा है। जबकि छात्रों के लिये सीट बढ़ाने और नए विषय या स्नातकोत्तर कक्षाएं प्रारंभ करने की बात पर स्थान नहीं है लिखकर दे दिया जाता है और सुविधा से वंचित रखा जा रहा है। महाविद्यालय के कुछ कर्मचारी अधिकारी 20 से 25 वर्षों से जमे हैं। और प्रवेश के लिए नियम बनाकर छात्र छात्राओं को प्रवेश में बाधा पहुंचाकर निजी महाविद्यालयों में प्रवेश के लिए भेजने का प्रयास कर रहे हैं। जिससे गरीब छात्र छात्राओं को ज्यादा मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। महाविद्यालय जाने वाले रोड की खराब स्थिति को अविलंब सुधारने की मांग भी ज्ञापन में की गई है। ज्ञापन सौंपने वालों में कृपासागर मैत्री, धीरज जाटवर, हेमन्त चौहान, बिट्टू मैत्री, दरों चन्द्रा, रोहन चन्द्रा, शिव साहू, मनोज निराला, चन्द्रकान्त चौहान, अजय सिदार, नितेश चन्द्रा, अजय चन्द्रा, चूड़ामणि साहू, युवराज पटेल, नन्दू चन्द्रा, ओम मिश्रा, राजेश यादव, दीपक मधुकर सहित बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं शामिल थे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close