जांजगीर-चांपा । (नईदुनिया न्यूज) । कोरोनाकाल में बिजली कंपनी ने बिल भुगतान को लेकर लोगों को बड़ी राहत दी है। लाकडाउन के दौरान कंपनी के एटीपी मशीन और मैनुअल काउंटर बंद है। इसलिए लोग बिजली बिल जमा नहीं कर पा रहे हैं। इसलिए कंपनी ने लोगों को छूट दी है कि वे जब काउंटर खुलेंगे, तब बिल जमा कर सकेंगे। तय समय निकल जाने के बाद भी ऐसे लोगों से सरचार्ज नहीं लिया जाएगा। लाकडाउन की वजह से लोगों के घर स्पाट रीडिंग नहीं हो रही है। बिजली कंपनी ने मार्च का औसत बिल लोगों के मोबाइल पर भेजा है। बड़ी संख्या में लोग कंपनी के मोर बिजली एप या अन्य आनलाइन माध्यमों से बिल जमा कर रहे हैं। जो लोग आनलाइन माध्यमों का उपयोग नहीं करते या नहीं करना चाहते हैं, उनके लिए कंपनी ने राहत दी है।

कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार रोकने की मंशा से प्रदेश के अधिकांश जिलों में लाकडाउन लगाया गया है। जिले में भी 15 मई तक लाकडाउन लगा हुआ है। इससे बिजली वितरण विभाग का कामकाज बाधित है। ऐसे में घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को डोर लॉक के साथ ही एवरेज बिजली बिल का मैसेज भेजा जा रहा है। मेन्युअल बिल भेजना व स्पाट मीटर रीडिंग भी बंद है। लेकिन उपभोक्ताओं को अब एवरेज बिजली बिल व बिल भुगतान में देरी होने पर पेनाल्टी या सरचार्ज के नाम पर अनाप-शनाप बिजली बिल गाने को लेकर चिंता सता रही है। इसको देखते हुए बिजली वितरण कंपनी ने घरेलू उपभोक्ताओं को राहत देने के लिए फैसला किया कि अगर घरेलू उपभोक्ता बिजली बिल का भुगतान निर्धारित समय तक नहीं कर पाते है तो उनको बिजली बिल के अतिरिक्त राशि याने सरचार्ज या अधिभार से पूरी छूट दी जाएगी। बिजली वितरण विभाग के स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि कंपनी मुख्यालय के निर्देशों के अनुसार ही उपभोक्ताओं से बिजली बिल वसूल किया जाएगा। बिजली वितरण कंपनी के इस निर्णय से जिले के 2 लाख से अधिक घरेलू उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी।

बाद में रीडिंग के अनुसार एडजस्ट कर सकेंगे बिल

कोरोना संक्रमण चलते जिन उपभोक्ताओं की मीटर रीडिंग नहीं हो पाई थी उनको औसत बिल जारी किया गया है। जिसमें उपभोक्ताओं सामान्य बिल की राशि के बराबर बिजली बिल भेजा गया है। एटीपी मशीन व मेनुअल काउंटर शुरू होने के बाद घरेलू उपभोक्ता बिना सरचार्ज के बिजली बिल जमा कर पाएंगे। बाद में वास्तविक रीडिंग के आधार पर बिजली बिल का समायोजन या एडजस्टमेंट किया जा सकेगा।

अभी सिर्फ आनलाइन हो रहा बिजली बिल का भुगतान

कोरोना संक्रमण व लाकडाउन के बीच बिजली बिल काउंटर व एटीपी मशीनों का संचालन पूरी तरह से बंद किया गया है। वर्तमान में कई उपभोक्ता आनलाइन, मोर बिजली एप के माध्यम से बिजली बिल का भुगतान कर रहे हैं। लेकिन अधिकांश लोगों के लिए समय पर बिजली बिल भुगतान करने परेशानी हो गई है। इसको ध्यान में रखते हुए रखते हुए घरेलू उपभोक्ताओं के लिए निर्धारित तिथि तक भी बिजली बिल भुगतान नहीं होने पर अधिभार सरचार्ज पूरा छूट देने का फैसला किया गया है।

'' घरेलू उपभोक्ता बिजली बिल का भुगतान निर्धारित समय तक नहीं कर पाते है तो उनको बिजली बिल के अतिरिक्त राशि यानि सरचार्ज या अधिभार से पूरी छूट दी जाएगी। कंपनी मुख्यालय के निर्देशों के अनुसार ही उपभोक्ताओं से बिजली बिल वसूल किया जाएगा। इससे जिले के 2 लाख से अधिक घरेलू उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी।

मनीष तनेजा, अधीक्षण अभियंता

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags