जांजगीर। जांजगीर में प्रथम चरण की मतगणना के बाद से ही कांग्रेस लगातार पीछे चल रही थी। कांग्रेस प्रत्याशी रवि भारद्वाज को पीछे छोड़ते हुए भाजपा के गुहराम अजगले ने भारी मतों से जीत दर्ज की है।

इस बार दोनों दलों के थे पुरुष प्रत्याशी

जांजगीर सीट से इस बार कांग्रेस और भाजपा दोनों ने पुस्र्ष उम्मीदवार को मैदान में उतारा था। कांग्रेस से जहां पूर्व सांसद परसराम भारद्वाज के पुत्र रवि भारद्वाज मैदान में थे, वहीं भाजपा से सारंगढ़ के पूर्व सांसद गुहाराम अजगले चुनाव लड़ रहे थे। बसपा से पूर्व विधायक दाऊराम रत्नाकर किस्मत आजमा रहे थे। इस तरह अब तक 16 बार हुए चुनाव में पांच बार महिला उम्मीदवारों को सांसद बनने का मौका मिला है, जबकि 10 बार यहां प्रमुख दलों से पुरुष प्रत्याशी ही मैदान में थे, इसलिए उनमें से ही उम्मीदवार दिल्ली पहुंचे।

गौरतलब है कि जांजगीर-चाम्पा लोकसभा में अब तक पांच चुनाव में महिला उम्मीदवार सांसद बनकर पहुंची हैं। इनमें मिनीमाता और कमला देवी पाटले दो-दो बार तो कस्र्णा शुक्ला एक बार सांसद रही हैं। हालांकि इस क्षेत्र में 16 बार हुए चुनाव में राजनीतिक दलों ने इतने ही बार महिला उम्मीदवारों को मौका भी दिया है। वर्ष 1967, 1971 में कांग्रेस ने मिनीमाता को यहां से उम्मीदवार बनाया और दोनों बार वे विजयी हुई। पहली बार मिनीमाता ने भारतीय जनसंघ के एस लाल और दूसरी बार इसी पार्टी के सुंदरलाल धनु जी को पछाड़ा। इसी तरह वर्ष 2004 में भाजपा ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी करुणा शुक्ला को मैदान में उतारा, जिसमें वे विजयी रही।

उन्होंने कांग्रेस के डॉ. चरणदास महंत को पराजित किया था। वर्ष 2009 में यह सीट परिसीमन के चलते अजा वर्ग के लिए आरक्षित हो गया, तब भाजपा ने यहां से कमला देवी पाटले को मैदान में उतारा और उन्होंने कांग्रेस के डॉ. शिव कुमार डहरिया को पराजित किया। इसी तरह वर्ष 2014 में पार्टी ने दूसरी बार कमला देवी पाटले पर भरोसा जताया और दूसरी बार भी वे विजयी रही। उन्होंने कांग्रेस के प्रेमचंद जायसी को डेढ़ लाख से अधिक मतों से परास्त किया।

महिला व पुरुष मतदाताओं में 33 हजार का अंतर

जांजगीर-चाम्पा लोकसभा में 18 लाख 90 हजार 693 मतदाता हैं। इनमें 9 लाख 62 हजार पुस्र्ष मतदाता हैं, जबकि 9 लाख 28 हजार 668 महिला मतदाता हैं। इस तरह पुरुष मतदाताओं की संख्या महिला मतदाताओं से मात्र 33 हजार 332 ज्यादा है। इस क्षेत्र में महिला वोटरों की संख्या पुरुषों से बहुत ज्यादा कम नहीं है, मगर जिस अनुपात में उनकी आबादी है उस अनुपात में उन्हें प्रतिनिधित्व नहीं मिल पाता।

आठ में से दो विधानसभा में महिला विधायक

जांजगीर-चाम्पा लोकसभा के आठ विधानसभा में से सिर्फ पामगढ़ और कसडोल में महिला विधायक हैं। पामगढ़ में बसपा की इंदु देवी बंजारे और कसडोल में कांग्रेस की शकुंतला साहू विधायक हैं, जबकि जांजगीर-चाम्पा, अकलतरा, सक्ती, चंद्रपुर, जैजैपुर और बिलाईगढ़ में पुरुष विधायक हैं।

जांजगीर-चाम्पा लोकसभा क्षेत्र के अब तक के सांसद

नाम -- वर्ष-- दल

अमर सिंह सहगल-1957-कांग्रेस

अमर सिंह--1962--कांग्रेस

मिनीमाता--1967--कांग्रेस

मिनीमाता--1971--कांग्रेस

भगतराम मनहर--1974--कांग्रेस

मदन लाल गुप्ता--1977--जनता दल

रामगोपाल तिवारी--1980--कांग्रेस

प्रभात मिश्रा--1984--कांग्रेस

दिलीप सिंह जूदेव--1989--भाजपा

भवानी लाल वर्मा--1991--कांग्रेस

मनहरणलाल पाण्डेय--1996--भाजपा

डॉ. चरण दास महंत--1998--कांग्रेस

डॉ. चरण दास महंत--1999--कांग्रेस

करुणा शुक्ला--2004--भाजपा

कमला देवी पाटले--2009- -भाजपा

कमला देवी पाटले--2014 भाजपा

यह भी पढ़ें...

Bastar Lok Sabha Result 2019: भाजपा प्रत्याशी बैदूराम से इतने आगे चल रहे हैं कांग्रेस के दीपक बैज

Raipur Lok Sabha Result 2019 : भाजपा प्रत्याशी सुनील सोनी फिर आगे

Bilaspur Lok Sabha Result 2019 : शुरुआती रूझान में बिलासपुर सीट पर कांग्रेस आगे

Kanker Lok Sabha Result 2019 : भाजपा प्रत्याशी मोहन मंडावी 81235 मतों से चल रहे हैं आगे

Raigarh Lok Sabha Result 2019 : भाजपा प्रत्याशी गोमती साय ने 1100 मतों से बनाई बढ़त, कांग्रेस को छोड़ा पीछे

Posted By: Sandeep Chourey