पᆬोटो : 14 जानपी 6 - निरीक्षण करती एसडीएम

बाराद्वार । (नईदुनिया न्यूज)। नगर का सिविल डिस्पेंसरी केवल आरएमए के भरोसे चल रहा है। मंगलवार की शाम औचक निरीक्षण करने पहुंचीं सक्ती एसडीएम रेना जमील तो उन्हें पता चला कि यहां न तो डाक्टर है, न फार्मासिस्ट, चौकीदार व स्वीपर तक नहीं हैं। एसडीएम ने बीएमओ को सिविल डिस्पेंसरी में डाक्टर व अन्य स्टाफ की व्यवस्था करने कहा है। साथ ही परिसर की साफ सफाई नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए प्रभारी को व्यवस्था दुरूस्त करने कहा है। सिविल डिस्पेंसरी में कोई भी डाक्टर नहीं है, जिसके कारण यहां की व्यवस्था चरमरा गई हैं, डाक्टर विहीन अस्पताल में इलाज के लिए भी कम ही मरीज आते हैं। डिस्पेंसरी की साफ सफाई भी ठीक से नहीं हो पा रही हैं। एसडीएम रेना जमील ने गंदगी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सफाई व्यवस्था को विशेष रूप से ध्यान देने के लिए निर्देशित किया है। आसपास के लोगों ने एसडीएम को बताया कि डाक्टर नहीं होने से नगर सहित आसपास के लोगों को प्राइवेट क्लीनिक का सहारा लेना पड़ रहा है, जिससे गरीबों को खासी दि-त हो रही है। आसपास में कोई दुर्घटना होती हैं, तो घायल को बाराद्वार सिविल डिस्पेंसरी लाया तो जाता हैं, लेकिन डाक्टर नहीं होने के कारण उसे सक्ती या जांजगीर रेफर कर दिया जाता है। लोगों ने एसडीएम से अस्पताल में अविलंब डाक्टर की व्यवस्था करने की मांग की। लोगों की मांग पर उन्होंने बीएमओ सक्ती डा. पी सिंह को फोन लगाकर सिविल डिस्पेंसरी में जल्द डाक्टर की व्यवस्था कर उन्हें सूचित करने का निर्देश दिया है। इस दौरान विजय लहरे सहित स्वास्थ्य विभाग के स्टाफ नर्स कर्मचारी उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local