जांजगीर-चांपा। जिले के नवागढ़ ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत तुस्मा में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा उप स्वास्थ्य केंद्र तो बना दिया गया मगर विभाग के अधिकारियों की निष्क्रियता की वजह से अब तक अस्पताल शुरू नहीं हो पाया है। जिसकी वजह से ग्राम पंचायत तुस्मा और आसपास क्षेत्र के लोगों को इलाज के लिए भटकना पड़ रहा है। ग्राम पंचायत तुस्मा में एक वर्ष पहले स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण कराया जा रहा था जो अब पूर्ण रूप से बनकर तैयार हो चुका है। ग्राम पंचायत तुस्मा के सरपंच कोमल प्रसाद पटेल के द्वारा स्वास्थ्य विभाग के उच्च अधिकारियों को सूचित किए जाने के बावजूद यहां अब तक उपस्वास्थ केंद्र शुरू नहीं हो पाया है।

इसे लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है। साथ ही सरपंच कोमल प्रसाद पटेल के द्वारा कई बार इसे लेकर अधिकारियों से फोन के माध्यम से चर्चा की है, लेकिन अधिकारियों ने उपस्वास्थ केंद्र को जल्द खोलने का आश्वासन देकर टाल देते है। अब तक स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने इसे गंभीरता से लेते हुए कोई पहल नहीं किया है। जिसका लाभ तुस्मा व आसपास के लोगों को नहीं मिल रहा है। लाखों रुपए की लागत से बना उप स्वास्थ्य केंद्र भवन देखरेख के अभाव में अब बंद पड़ा है।

यहां असामाजिक तत्वों का डेरा बना हुआ है। वहीं अस्पताल भवन के मैदान में मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है। कहने को तो ग्राम तुस्मा में उप स्वास्थ्य केंद्र बन गया है लेकिन तुस्मा समेत आसपास के गांव के बीमार लोगों को इलाज के लिए अभी भी जांजगीर जाना पड़ता है। जिससे उन्हें स्वास्थ्यगत समस्याओं के साथ ही आर्थिक परेशानी होती है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local