डभरा । (नईदुनिया न्यूज) । कलमा बैराज से प्रभावित जिले के चन्द्रपुर इलाके के 314 किसानों को भू - अर्जन मुआवजा के रूप में 22.78 करोड़ रूपए की राशि के चेक का वितरण मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा किया गया । मुआवजा वितरण का यह वर्चुअल कार्यक्रम मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित हुआ। विधानसभा अध्यक्ष डा. चरणदास महंत इस कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल हुए। कार्यक्रम में जलसंसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डा. प्रेमसाय सिंह टेकाम मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि कलमा बैराज का निर्माण जांजगीर-चांपा जिले के ग्राम कलमा तथा रायगढ़ जिले के ग्राम बरगांव के मध्य महानदी पर 377.42 करोड़ रूपए की लागत से कराया गया है। इसका निर्माण फरवरी 2011 में शुरू किया गया था और मार्च 2016 में यह बैराज बनकर तैयार हुआ। बैराज के निर्माण से जांजगीर-चांपा जिले के 13 गांव के 682 किसानों की 97.89 हेक्टेयर भूमि प्रभावित हुई थी। उन्होंने 314 किसानों के काफी अर्से से लम्बित मुआवजा प्रकरण के निराकरण के लिए विधानसभा अध्यक्ष डा. चरणदास महंत, जलसंसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे, विधायक रामकुमार यादव सहित जिला प्रशासन द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि किसानों की बेहतरी और उनके मुद्दों को प्राथमिकता से निराकृत करना सरकार की प्राथमिकता है । इस काम में सरकार की पूरी टीम लगी हुई है। विधानसभा अध्यक्ष डा. चरणदास महंत ने किसानों के भू-अर्जन के लंबित प्रकरणों के निदान एवं मुआवजा राशि के वितरण के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताया। उन्होंने कहा कि भू-अर्जन का यह मामला वर्षों से लंबित था, जिसका निदान छत्तीसगढ़ सरकार ने किया है। आज किसानों को मुआवजा राशि मिल रही है, यह हम सब के लिए खुशी की बात है। जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि इस बैराज से किसानों को सिंचाई के लिए पानी मिले, इसको लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश के परिपालन में जलसंसाधन विभाग द्वारा बैराज के दोनों तटों पर मेगा लिफ्ट एरीगेशन प्रोजेक्ट प्रस्तावित किया गया है। इससे 15 हजार हेक्टेयर से अधिक रकबे में किसानों को जलापूर्ति हो सकेगी।

सरकार गरीब किसान और श्रमिकों के हित में कर रही है कार्य

चंद्रपुर के अग्रसेन भवन में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजस्व एवं आपदा प्रबंधन एवं जिले के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार गरीब किसान और श्रमिकों के हित में कार्य कर रही है। इनके कल्याण के लिए अनेक योजनाए संचालित है। इसी कड़ी में आज कलमा बैराज से प्रभावित भूमि स्वामिओं के लंबित मुआवजा भुगतान के प्रकरणों को प्राथमिकता के साथ निराकरण मुआवजा राशि का वितरण किया गया । उन्होंने कहा कि जिले के विकास के लिए कार्य करने वालों की टीम बन गई है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ और शिक्षा के क्षेत्र में प्राथमिकता से विकास किया जाएगा। विधायक रामकुमार यादव ने कहा कि जिले के वरिष्ठ जन प्रतिनिधियों के सतत प्रयास से कलमा बैराज का लंबित मुआवजा प्रकरण का आज निराकरण संभव हुआ। इससे किसानों के चेहरे पर खुशी नजर आ रही है। उन्होंने अधिग्रहित भूमि के मुआवजे से लाभान्वित किसानों से अनुरोध कर कहा कि वे प्राप्त राशि का उपयोग परिवार की शिक्षा और उन्नाति में निवेश करें। कार्यक्रम को जिला पंचायत अध्यक्ष यनिता चन्द्रा, पूर्व विधायक मोतीलाल देवागंन, इंजी रवि पाण्डे, अर्जुन तिवारी, रश्मि गबेल, दिनेश शर्मा, रवि भारद्वाज, चोलेश्वर चन्द्राकर, तुलसी साहू ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर एसपी प्रशांत कुमार ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ गजेन्द्र सिंह ठाकुर, जिला पंचायत सदस्य राजकुमार साहू, डभरा जनपद पंचायत अध्यक्ष पत्रिका दयाल, शिशिर द्विवेदी, संतोष शर्मा, हितग्राही किसान, जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

ग्रामीणों को निस्तारी एवं सिंचाई का मिलेगा लाभ

कलेक्टर जितेन्द्र कुमार शुक्ला ने स्वागत भाषण दिया। उन्होंने कहा कि इस बराज के निर्माण की लागत 1 अरब, 82 करोड़, 2 लाख, 86 हजार रूपए है। बराज के निर्माण से 13 गावों के लगभग 654 किसानों ने अपनी जमीन देकर महत्वपूर्ण योगदान दिया है। विभिन्ना कारणों से लगभग 300 किसानों का मुआवजा निर्धारण में विभिन्ना कारणों से विलंब हो रहा था। जिसे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मार्ग दर्शन में जिला प्रशासन द्वारा यथाशीघ्र कार्रवाई कर पात्र सभी प्रभावितों के मुआवजा प्रकरणों का निराकरण कर मुआवजा राशि - 22 करोड़ 78 लाख, 90 हजार रूपए का वितरण किया जा रहा है। जिले के उद्योगों और पावर कंपनियों को जल प्रदाय किया करने से राजस्व की प्राप्ति होगी। उन्होंने कहा कि आस-पास के गांवों में भूजल स्तर में वृद्घि होने से ग्रामीणों को निस्तारी एवं स्वयं के साधन से सिंचाई का लाभ भी मिल सकेगा।

वर्षों से लंबित मुआवजा मिलने से खुश हुए किसान

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलमा बैराज से प्रभावित चन्द्रपुर इलाके के 314 किसानों को भू-अर्जन मुआवजा के रूप में 22.78 करोड़ रूपए की राशि के चेक का वितरण किया। कलमा बैराज से प्रभावित किसान ग्राम गोपालपुर निवासी रामानंद को सर्वाधिक 1 करोड़ 3 लाख 13 हजार 171 रुपये के मुआवजा राशि का चेक दिया गया। रामानंद ने बताया कि 1.558 हेक्टेयर रकबा कलमा बैराज के लिए अधिग्रहित किया गया है। उन्हें मुआवजा राशि का बहुत दिनो से इंतजार था। उनका परिवार पूरी तरह खेती किसानी पर निर्भर है। वे जल्द ही आस-पास खेती भूमि खरीद कर अपने किसानी काम को आधुनिक तरीके से करेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की संवेदनशील पहल और जिला प्रशासन के सहयोग से आज यह राशि प्राप्त हो गई है। मुआवजा राशि मिलने से उनकी उम्मीद बढ़ी है।

मुआवजा मिलने की छोड़ दी थी उम्मीद

कार्यक्रम में ग्राम सिरौली निवासी टीकमसिंह को 1 लाख 71 हजार 456 रुपये का मुआवजा राशि प्राप्त हुई। उनकी 0.032 हेक्टेयर रकबा बैराज निर्माण के लिए अधिग्रहित किया गया है। उन्होंने विलंब होने के कारण मुआवजा मिलने की उम्मीद छोड़ दी थी। पर राज्य सरकार के विशेष पहल से आज मुआवजा राशि मिल गई है। वे इस पैसे का उपयोग बधो की पढ़ाई लिखाई और व्यवसाय में करेंगे। इसी गांव की सतरूपा पटेल का भी 0.032 हेक्टेयर रकबा बैराज निर्माण के लिए अधिग्रहित होने पर 1 लाख 71 हजार 456 रुपये का मुआवजा प्राप्त हुआ । उन्होंने कहा कि यह पैसा बधाों की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए उपयोग करेंगे।

खेती किसानी में राशि का करेंगे उपयोग

ग्राम गोपालपुर के संतराम को 69 लाख 63 हजार 707 रुपये का मुआवजा प्राप्त हुआ। वे इस पैसे से खेती किसानी का के लिए उपयोग करेंगे। इसी गांव के शांता बाई 31 लाख 2 हजार 301 रुपये का मुआवजा प्राप्त हुआ। वे इस पैसे से खेती की जमीन खरीदने के लिए उपयोग करेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags