दो अलग - अलग लोगों से लूटी थी रकम

अकलतरा । (नईदुनिया न्यूज)। अकलतरा थाना क्षेत्र के दो अलग अलग स्थानों पर विभिन्ना तिथियों में की गई लूट की वारदात में आरोपितों को 3 - 3 वर्ष कठोर कारावास एवं अर्थदंड की सजा न्यायायिक मजिस्टे्रट प्रथम श्रेणी आनंद बोरकर ने सुनाई ।

अभियोजन के अनुसार 3 अक्टूबर 2019 को प्रार्थी संतराम निवासी तरौद पंजाब नेशनल बैंक तरौद से 1 लाख रुपये नगद निकालकर रुपये को एक थैले में रखकर उसे साइकिल की हैंडिल में बांधकर घर जा रहा था। जब वह नहरपार रोड तरौद के पास पहुचा तब तीन आरोपित एक बाइक से संतराम के पास आकर उसे ध-ा देकर गिरा दिए फिर रुपये वाला थैला लूटकर पᆬरार हो गए। प्रार्थी द्वारा थाने में शिकायत दर्ज कराई गई। इसी प्रकार 18 नवंबर 2020 को में प्रार्थी प्रमोद और उसकी माता लक्ष्मीन बाई अकलतरा स्थित भारतीय स्टेट बैंक अकलतरा से नगद रुपये 69 हजार निकालकर एक थैले में रख शास्त्री चौक अपने पुत्र के साथ पहुंची जंहा लक्ष्मीनबाई रुपये का थैला हाथ मे रख ठेले से फल खरीदने लगी। उसी समय तीन आरोपित बाइक से वहां पहुचे और रुपयों का थैला लक्ष्मीनबाई से छीनकर तीनो बाइक से पᆬरार हो गए। प्रार्थी द्वारा थाना अकलतरा में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। अन्वेषण दौरान जिला बिलासपुर थाना सकरी से रेडियो संदेश प्राप्त हुआ कि थाना सकरी के एक अपराध में आरोपितों ने पूछताछ के दौरान रेकी कर बिलासपुर,सकरी,बिह्ला,कोटा,चकरभाठा,मस्तूरी व अन्य स्थानों सहित अकलतरा में भी लूट की घटना को अंजाम देना बताया । इस आधार पर अकलतरा पुलिस ने न्यायालय से आरोपितों के खिलापᆬ प्रोडक्शन वारंट जारी कराकर उन्हें यहां पेश किया आरोपितों ने प्रार्थी संतराम के अलावा लक्ष्मीन बाई से बैंक से पीछा करते हुए मौका मिलने पर उनसे रूपए लूटना स्वीकार किया। दोनों प्रकरणों की पृथक पृथक विवेचना पूर्ण होने के उपरांत दोनो प्रकरणों का चालान न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी न्यायालय अकलतरा में पेश किया गया। न्यायालय में दोनो प्रकरणों में अभियोजन की तरफ से प्रस्तुत गवाहो के परीक्षण प्रतिपरीक्षण बाद न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी आनंद बोरकर द्वारा दोनों वारदातों के तीनो आरोपित दिनेश कुमार बांधेकर उर्फ दीनू निवासी तालापारा बिलासपुर, राजू साव उर्फ राजू कसेर निवासी मगरपारा बिलासपुर एवं करन यादव निवासी तालापारा बिलासपुर को लूट की दोनों वारदातों का दोषी करार देते हुए भादवि की धारा 392, 34 के लिए 3 - 3 साल कठोर कारावास व अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड की राशि अदा न करने पर पृथक से कारावास का आदेश दिया गया। शासन की ओर से उक्त दोनों प्रकरणों में सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी एस अग्रवाल ने पैरवी की।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local