बलौदा (नईदुनिया न्यूज)। दस लाख रुपये की लागत से निर्मित धान खरीदी के चबूतरे कंडा थापने का काम आ रहा है और धान खरीदी के लिए तीस हजार रुपये महीना किराए पर जमीन लेकर खरीदी की जा रही है । धान खरीदी के लिए बनाए गए चबूतरे अनुपयोगी हो गए । इसके बाद अब धान खरीदी के लिए बनाये गए चबुतरे के ऊपर गोदाम बनाया जा रहा है।

बलौदा ब्लाक के ग्राम पंचायत कोरबी में 19 मई 2020 को मनरेगा व 14 वे वित्त आयोग की राशि से सेवा सहकारी समिति कोरबी के लिए लगभग 10 लाख रुपये की लागत से धान खरीदी के लिए 4 चबूतरे की स्वीकृति दी गई। ग्राम पंचायत कोरबी में स्वीकृति चबूतरा निर्माण कार्य की एजेंसी ग्राम पंचायत डोंगरी को बना दिया गया । जनपद पंचायत बलौदा में निर्माण कार्य के लिए पंचायत प्रस्ताव , नक्शा खसरा के बाद ही निर्माण कार्य की स्वीकृति मनरेगा से मिलती है । मनरेगा से धान खरीदी चबूतरे की स्वीकृति नियम को ताक में रखकर दी गई। 20 मई 2020 को ग्राम पंचायत कोरबी को कार्य आदेश दिया गया । निर्माण कार्य के पहले जब कोरबी सरपंच अनुबंध करने जनपद पंचायत गए तो पता चला कि स्वीकृत कार्य की एजेंसी निर्माण एजेंसी ग्राम पंचायत डोंगरी को बना दिया गया है । जिसकी शिकायत सरपंच ने 2 जून 2020 को सीईओ बलौदा व 3 जून 2020 को कलेक्टर सेकी। इसके बाद भी सरपंच की शिकायत पर कार्रवाई नही हुई । ग्राम पंचायत डोंगरी द्वारा धान खरीदी के लिए चबूतरे का निर्माण किया गया है वह जमीन रेशम विभाग की नर्सरी है । कोरबी सोसायटी के लिए धान खरीदी के लिए बनाया गया लाखो रुपये के चबूतरेअनुपयोगी हो गए । ग्रामीणों का आरोप है कि चबूतरे को गलत जगह बनाया गया । लाखो रुपये की बर्बादी की गई । वर्तमान में कोरबी सोसायटी के द्वारा तीस हजार रुपये महीने में किराये की जमीन लेकर धान खरीदी की जा रही है, जहां धान रखने केलिए पर्याप्त व्यवस्था नही होने से किसानो से खरीदी की गई धान जमीन में रखे हुए खराब हो रहा है । धान खरीदी के लिए जमीन किराये में ली गई इसमें भी किसानो के पैसे का दुरुपयोग होरहा है । इधर लाखो रुपये का चबूतरा कोई काम का नहीं है। अब उसी चबूतरे के ऊपर गोदाम भवन निर्माण की अनुमति किसने दी । यह भी सहकारिता विभाग के अधिकारियों पता नहीं है।

निर्माण स्थल पर कोई जानकारी नहीं

सरईश्रृगांर के पास रेशम विभाग की कोसाबाड़ी में 4 नग चबूतरा धान रखने के लिए बनाया गया था । एक चबूतरे के ऊपर निर्माण कार्य किया जा रहा है । निर्माण कार्य स्थल में कोई सूचना पटल नही है । कार्य कर रहे मजदूर ने बताया कि यह गोदाम भवन बन रहा है । लाखो रुपये का निर्माण कार्य हो रहा है मगर सहकारिता विभाग को पता नहीं है ।

विधायक के शिकायत के बाद भी कार्रवाई नहीं

विधायक सौरभ सिंह ने 6 जून 2020 को सीईओ जिला पंचायत सेशिकायत की थी कि सेवा सहकारी समिति कोरबी में धान खरीदी के लिए 4 नग चबुतरा निर्माण की स्वीकृति हुई थी जिसका कार्यादेश ग्राम पंचायत कोरबी को प्राप्त हो गया था , डोंगरी में कोई भी धान खरीदी नहीं है। कोरबी सोसायटी में एक भी उप धान खरीदी केन्द्र नही है, जो धान की खरीदी की जाती है वह ग्राम कोरबी की ही जमीन पर की जाती है। अतः जिस गांव में धान खरीदी केन्द्र स्वीकृत ही नहीं उस गांव में धान खरीदी केन्द्र बनाना और मूल सोसायटी कोरबी में धान खरीदी केन्द्र नही बनाना गलत है। मगर इस शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

'आपके माध्यम से वहां निर्माण कार्य की जानकारी मिल रही है। चबूतरे के ऊपर अन्य निर्माण कार्य की अनुमति नही ली गई है। क्या निर्माण कार्य किया जा रहा है इसकी जानकारी हमारे पास नही है ।

रवि वैष्णव

शाखा प्रबंधक

जिला सहकारी केंद्रीय बैक मर्यादित बलौदा

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local