जशपुरनगर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रदेश की कांग्रेस सरकार को विधानसभा चुनाव के घोषणा पत्र में किए गए बेरोजगारी भत्ता की याद दिलाने के लिए भारतीय जनता युवा मोर्चा ने गुरूवार को रोजगार कार्यालय घेराव आंदोलन किया। रोजगार कार्यालय घेरने के लिए आगे बढ़ रहे भाजपाईयों को पुलिस बल ने रणजीता स्टेडियम के प्रवेश द्वार के पास रोक दिया। इस दौरान पुलिस प्रशासन द्वारा लगाए गए बेरिकेट्स को तोड़ने का प्रयास किए जाने पर पुलिस बल और भाजयुमो कार्यकर्ताओं के बीच जमकर धक्का मुक्की हुई। लगभग आधा घंटे तक चले इस राजनीतिक घटनाक्रम के बाद भाजयुमो के नेताओं ने राज्यपाल के नाम पर एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर आंदोलन को समाप्त किया। इससे पहले शहर के आदर्श बस स्टैंड में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय मंत्री रवि भगत ने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने मतदाताओं को भ्रमित करने वाले वायदे किए। इन्हीं में बेरोजगारों को भत्ता देने का वायदा भी शामिल था। उन्होनें कहा कि पूर्ण बहुमत प्राप्त करने के बाद कांग्रेस

छत्तीसगढ़ के बेरोजगारों से धोखा करते हुए वादे को पूरा करने से पीछे हट रही है। लेकिन भाजपा बेरोजगारों की आवाज बन कर

सरकार को उसके वायदे को याद कराने के लिए पूरे प्रदेश में विधानसभा और जिला स्तर पर आंदोलन चला रही है। उन्होनें कहा कि यदि इसके बाद भी कांग्रेस सरकार ने बेरोजगार युवाओं के हित में फैसला नहीं लिया तो आगामी 24 अगस्त को रायपुर में जिले भर से भाजपा कार्यकर्ता और बेरोजगार युवा,मुख्यमंत्री निवास का घेराव करेगें। वरिष्ठ नेता और बिलासपुर संभाग के संगठन प्रभारी कृष्ण कुमार राय ने कहा कि विधानसभा चुनाव के दौरान किए गए वायदों के विपरीत छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार जनविरोधी काम कर रही है। उन्होनें कहा कि भाजपा के शासन काल में जनता को भूख और बेरोजगारी दोनों से मुक्ति मिल गई थी। लेकिन कांग्रेस के चार साल के कुशासन में छत्तीसगढ़ एक बार फिर गरीबी,बेरोजगारी और भूखमरी के मकड़जाल में फंस रहा है। उन्होनें आने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया।भाजयुमो के सरगुजा संभाग के प्रभारी चिंटू राजपाल ने कहा कि विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान कांग्रेस द्वारा जारी किए गए जनघोषणा पत्र में कांग्रेस ने 36 वायदे प्रदेश की जनता से किए थे। इसमें किसानों का ऋण माफी,शराब बंदी और बेरोजगारी भत्ता शामिल है। लेकिन ये वायदे अब तक पूरे नहीं हुए है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कांग्रेस के नेताओं को इन्हीं वायदों की याद दिलाने के लिए भाजपा आंदोलन कर रही है। जिला पंचायत जशपुर की अध्यक्ष श्रीमती रायमुनी भगत ने प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी नरवा,गरूवा,घुरूवा और बाड़ी योजना पर निशाना साधा। उन्होनें इस योजना को पूरी तरह से विफल बताते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार,इस योजना की आड़ में जनता की गाढ़ी कमाई का पैसा लूटा रही है। उन्होनें कहा कि गांव से 5 किलोमीटर दूर,जंगल में गोठान का निर्माण करा दिया गया है। जो पूरी तरह से बेकार साबित हो रहा है। कार्यक्रम को भाजयुमो के जिला प्रभारी निश्छला प्रताप सिंह,सह प्रभारी सिद्वांत शुक्ला,भाजयुमो अध्यक्ष अमन शर्मा,बीडीसी शारदा प्रधान और भाजयुमो जिला महामंत्री दीपक गुप्ता ने भी संबोधित किया। इस आंदोलन में जिला भाजपा मंत्री देवधन नायक, जशपुर जनपद उपाध्यक्ष राजकपूर भगत, डीडीसी लालदेव भगत, बीडीसी शारदा प्रधान, युवा मोर्चा अध्यक्ष अमन शर्मा, भाजपा मंडल अध्यक्ष संतोष सिंह, गोविंद राम भगत, श्यामलाल भगत, भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति सदस्य नितिन राय, भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति सदस्य ठाकुर विक्रांत सिंह, दीपक अंधारे, जिला उपाध्यक्ष युवा मोर्चा शौर्य प्रताप सिंह जूदेव, जिला महामंत्री द्वय अवधेश गुप्ता, दीपक गुप्ता, मैनेजर राम, गोपाल कश्यप, अंकित बंसल, अभिषेक मिश्रा, नमित सिंह, सौरभ शर्मा, संदीप सोनी,कृपा शंकर भगत, अरविंद भगत, विनोद निकुंज, आकाश गुप्ता, निखिल गुप्ता, राजा सोनी, ऋत्विक जैन, राहुल गुप्ता, खिरोज सिंह, अभ्युदय मिश्रा, दीपू मिश्रा, सज्जू खान, अरविंद गुप्ता, राजेश फेंटा चैधरी, पंकज गुप्ता, ओमप्रकाश चैहान, बॉबी ताम्रकर, मंगल राम, गंगा राम भगत, रवि गुप्ता, अनुज भगत,आशु राय, अभिषेक गुप्ता, अब्दुल जब्बार खान,सूरज सिंह, कृष्णा गुप्ता, चंदन गुप्ता, संतोष साव, प्रदीप सिंह, जगदीश यादव, रामविलास राम, कमलेश यादव, तरुण डनसेना, प्रकाश यादव, विजय चैहान, अजय गुप्ता, गोल्डी साहू सहित भाजपा के पदाधिकारी एवं युवा मोर्चा के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

टीएस सिंहदेव प्रकरण की हुई चर्चा

भाजयुमो के इस आंदोलन के दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के बीच चल रही राजनीतिक खींचतान का मामला भी छाया रहा। वरिष्ठ नेता कृष्ण कुमार राय ने इस मामले का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा केन्द्र सरकार की प्रधानमंत्री आवास योजना में लगाएं जा रहे अड़गेंबाजी से परेशान हो कर टीएस सिंहदेव ने पंचायत मंत्री के पद से त्यागपत्र दिया है।

भ्रष्टाचारियों को संरक्षण दे रही है भूपेश सरकार

इस आंदोलन के दौरान भाजयुमो ने भ्रष्टाचार और दिव्यांग केन्द्र में हुई शर्मनाक दुष्कर्म के मामले को भी उठाया। राज्यपाल के नाम पर सौंपे गए ज्ञापन में भाजयुमो ने आरोप लगाया है कि जिला चिकित्सालय में हुए 12 करोड़ के घोटाले,आत्मानंद स्कूलों में बिना निविदा हुए करोड़ों के निर्माण कार्य,मुख्यमंत्री ग्राम गौरव पथ योजना में गड़बड़ी और आदिम जाति कल्याण विभाग में बेरोजगारों के साथ हुई करोड़ों रूपए की ठगी के मामले में कार्रवाई की जगह प्रदेश सरकार,भ्रष्टाचारियों को सुरक्षित करने में जुटी हुई है।

--

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close