तुमला (नईदुनिया न्यूज)। Corona virus effect in Chhattisgarh कोरोना वायरस के खतरे से जूझ रहे शासन-प्रशासन द्वारा लोगों को जागरूक करने का प्रयास अब रंग लाने लगा है। लॉक डाउन सफल बनाने के लिए शहर के अपेक्षा ग्रामीण अंचल में लोगों में जागरूकता अधिक दिखाई दे रही है।

जिले के फरसाबहार विकासखंड के ग्राम बाबूसाजबहार में भी लाक डाउन का असर दिखा। यह गांव छत्तीसगढ़ और ओडिसा की सीमा के नजदीक स्थित है। दूसरे प्रांत से लोगों का आना जाना लगा रहता है। इससे कोरोना वायरस के फैलने की आशंका स्थानीय रहवासियों को सताने लगी थी।

इससे निबटने के लिए ग्रामीणों ने एकजुट हो कर पूरे गांव को बाहरी लोगों के लिए पूरी तरह से बंद करने का निर्णय लिया। ग्रामीणों इस में प्रवेश करने वाली मुख्य सड़क को पेड़ की डालियां से अवरूद्व कर पूरी तरह से बंद कर दिया। ग्रामीणों ने बताया कि देश में किए गए लॉक डाउन की वजह से लोगों का आवागमन लगभग पूरी तरह से बंद हो चुका है। बावजूद इसके इक्का-दुक्का लोगों के आने जाने का सिलसिला जारी है।

ये लोग कहां से आ रहे हैं,इसका पता नहीं चल पाता है। जिससे कोरोना वायरस के फैलने का खतरा बना रहता है। इस खतरे को पूरी तरह से खत्म करने के लिए यह कदम उठाया गया है। इनका कहना था कि जब तक कोरोना का खतरा पूरी तरह से समाप्त नहीं हो जाता,मुख्य सड़क से अवरोध को नहीं हटाया जाएगा।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay