जशपुर। Elephant Attack: दल से बिछुड़े हुए दंतैल ने गर्भवती महिला को कुचल कर मार डाला। घटना जिले के पत्थलगांव वन परिक्षेत्र के कुड़केल खजरी गांव की है। जानकारी के मुताबिक इस गांव की निवासी फूलमती बाई 40 वर्ष सोमवार की रात तकरीबन 10 बजे घरेलू राशन समान लेकर घर लौट रही थी। इसी दौरान इस दम्पत्ति का सामना हाथी से हो गया। मृतका का पति सालिक राम किसी तरह जान बचाने में कामयाब हो गया, लेकिन गर्भवती महिला को हाथी ने सूंढ़ में लपेट कर जमीन में पटक कर कुचल दिया। इस दुखद घटना को लेकर गांव में भय और मातम का माहौल रहा।

रेंजर अनिता साहू ने बताया कि इस रास्ते में पहली बार हाथी आया है। उन्होंने बताया कि रेंज में फिलहाल यही एकमात्र हाथी मौजूद है। रात तक इसके सरगुजा जिले के सीतापुर की ओर पलायन कर जाने की संभावना है। बताया जा रहा है कि यह हाथी एक दल से बिछड़ कर रास्ता भटक गया है और गांव के अंदर स्वच्छंद विचरण करते हुए जान माल का नुकसान कर रहा है।

नौ माह में 23 की मौत

जिले में हाथियों की लगातार बढ़ रही संख्या के साथ इनका उत्पात भी बढ़ता जा रहा है। इस साल अब तक हाथी जिले में 23 लोगों की जान ले चुके हैं। उत्पाती हाथियों से लोगो को अब अपने परिवार की चिंता सताने लगी है। यही वजह है कि ग्रामीण क्षेत्रों में लोग घरों में करंट प्रवाहित करने लगे हैं। अगस्त माह में तपकरा वन परिक्षेत्र के झिलिबेरना गांव में घर मे लगाए हुए कटीले बाड़ की चपेट में आ कर एक हाथी की मौत हो गई थी। कुनकुरी वन परिक्षेत्र में भी मार्च माह में एक गर्भवती हथिनी की संदिग्ध मौत हो चुकी है।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020