जशपुरनगर कुनकुरी। ड्रम लेकर घर की ओर लौट रहे ग्रामीण का सामना दल से अलग हो कर भटक रहे दंतैल से हो गया। हाथी ने साइकिल सवार को सुढ़ में लपेट कर पटका और कुचलने के बाद उसे बगल में स्थित एक तलाब में धकेल दिया। हादसा जिले के कुनकुरी वन परिक्षेत्र के आम्बाचुवा गांव की है। वन विभाग के एसडीओ नवीन कुमार निराला ने बताया कि मृतक की पहचान ग्राम छोटा बनई निवासी विश्वनाथ राम के रूप में की गई है।

उन्होंने बताया कि घटना शनिवार की सुबह 5 बजे के आसपास की है। विश्वनाथ राम,साइकिल में ड्रम रख कर आम्बाचुवा के पास स्थित ईट भट्टे के पास से गुजर रहा था। इसी दौरान उसका सामना हाथी से हो गया। इससे पहले की विश्वनाथ सम्हल पाता,हाथी ने उस पर आक्रमण कर दिया और कुचल कर उसे घटना स्थल के बगल में स्थित तलाब में फेंक दिया। घटना में मौके पर ही ग्रामीण की मौत हो गई। एसडीओ निराला ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मृतक के स्वजनों को तात्कालिक सहायता राशि भुगतान करने की तैयारी की जा रही है।

तीन हाथियों ने जमाया डेरा

एसडीओ ने बताया कि घटना स्थल के आसपास तीन हाथियों की उपस्थिति की सूचना मिली है। उन्होंने बताया कि इसमे एक हाथी अकेले भटक रहा है और एक हथिनी और उसका बच्चा भी डेरा जमाए हुए है। आसपास के रहवासियों को सतर्क करते हुए सूर्योदय से पहले और बाद में घटना स्थल की ओर न जाने की सलाह दी गई है। जानकारी के लिए बता दें कि जशपुर जिला छत्तीसगढ़ के सबसे अधिक हाथी प्रभावित जिले में शामिल है। ओड़िसा और झारखंड की सीमा पर स्थित जिले के फरसाबहार,पत्थलगांव,कुनकुरी,दुलदुला ब्लाक में लगभग साल भर हाथियों की मौजूदगी रहती है।

हाथियों के इस बढते हुए हलचल की वजह से जन और सम्पत्ति हानि का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। हाथी समस्या से निबटने के लिए केंद्र व राज्य सरकार अब तक सोलर वायर फेंसिंग,जीआई वायर फेंसिंग,एलिफेंट कॉरिडोर जैसे कई प्रयोग कर चुकी है। लेकिन,इन्हें अब तक अपेक्षित सफलता नहीं मिल पाई है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close