0.नाराज परिजनों ने बदहाल चिकित्सा सेवा का वीडियो बनाकर किया वायरल

0.पᆬरसाबहार तहसील के तपकरा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का मामला

पᆬोटो 21 जेएसपी 11 : घायल को लेकर अस्पताल पहुंचे परिजन

तपकरा। नईदुनिया प्रतिनिधि

सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए ऑटो चालक को इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर पहुंचे परिजनों को चिकित्सक न होने के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ा। स्वास्थ्य केन्द्र में 13 कर्मचारियों के बाद भी घायल को सिपर्ᆬ प्राथमिक चिकित्सा ही मिल पाया। घायल की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए परिजन उसे बेहतर इलाज के लिए निजी वाहन से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पत्थलगांव ले गए। जहां उनका इलाज किया गया।

घनश्याम नगर तपकरा निवासी ऑटो चालक अजित दास(47) पिता सुखदेव शनिवार को तपकरा -लवाकेरा के बीच ग्राम समडमा के समीप रात में जर्जर सड़क की वजह से रात में गड्ढे में ऑटो घुसकर पलटने से घायल हो गए। हादसे में अजित दास के सिर और पैर में गंभीर चोट आई थी। सूचना पर मौके पर पहुंचे घायल के परिजनों ने पड़ोसियों की मदद से अजितदास को इलाज के लिए तपकरा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर पहुंचे। परिजनों का आरोप है कि उस वक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में सिपर्ᆬ एक नर्स मौजूद थी। जबकि मरीजों के इलाज के लिए इस प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में शासन ने दो चिकित्सकों के साथ 13 कर्मचारियों को पदस्थ किया है। लेकिन घायल को इस प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में मरहम पट्टी के अलावा कोई चिकित्सकीय सहायता नहीं मिल पाई। इस बदइंतजामी से आक्रोशित तपकरा के लोगों ने मोबाइल में वीडियो शूट कर इसे सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। उनका कहना था कि जब उन्होनें घायल अजित दास के इलाज के लिए चिकित्सकों से संपर्क किया तो महिला चिकित्सक ने स्वयं के अवकाश में होने की बात कही, वहीं दूसरे चिकित्सक ना तो घर में मिले और ना ही मोबाइल से उनसे संपर्क हो पाया। लगातार हो रहे रक्तस्त्राव को देखते हुए परिजन घायल की जान बचाने के लिए उसे निजी वाहन से लेकर पत्थलगांव के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे । यहां घनश्याम दास को इलाज के लिए भर्ती किया गया है।

नाराज परिजनों ने वीडियों बनाकर किया वायरल

तपकरा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में चिकित्साकर्मियों की लापरवाही से भड़के अस्पताल पहुंचे घायल के परिजन और उनके मदद के लिए मौजूद स्थानीय लोगों ने मोबाइल से रात के वक्त खाली प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र वीडियो बना कर इसे वायरल कर दिया। वायरल किए गए इस वीडियों में उन्होनें घायल के इलाज में चिकित्सकों के रूचि ना लिए जाने पर नाराजगी जताई है।

तपकरा में दो चिकित्सकों की पदस्थापना की गई है। घायल को स्वास्थ्य केन्द्र में प्राथमिक उपचार दिया गया था। कोतबा के स्वास्थ्य केन्द्र में रात के वक्त पोस्ट मार्टम करने की जानकारी नहीं है। मामले की जानकारी लेकर उचित कार्रवाई की जाएगी।

एसएस पैंकरा,सीएमएचओ,जशपुर।