जशपुरनगर(नईदुनिया न्यूज)। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग जिला जशपुर की ओर से बच्चों को डायरिया से बचाने के लिए हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी एक नई पहल की है। जिसके तहत गहन डायरिया नियंत्रण पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है। पखवाड़े का शुभारंभ करते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा रंजीत टोप्पो ने जिला अस्पताल में जिंक एवं ओआरएस कार्नर का उद्घाटन किया एवं गहन डायरिया नियंत्रण पखवाड़े के प्रचार रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार पांच साल से कम उम्र के बच्चों की दस्त व कुपोषण से होने व मृत्यु दर में कमी लाने व आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से इस पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है। इस पखवाड़े के माध्यम से लोगों को स्वच्छता एवं पौष्टिक आहार, हाथ धोने का सही विधि के बारे में जानकारी दी जाएगी। इस अभियान की मानिटरिंग मैदानी स्तर पर की जाएगी। नौनिहालों को डायरिया से मुक्त करने के लिए ओआरएस का घोल और जिंक टेबलेट दी जाएगी। इसके लिए चिकित्सा विभाग द्वारा पूरी तैयारियां सुनिश्चित की गई है। जिला अस्पताल सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, उप स्वास्थ्य केंद्र में चिन्हित स्थान पर ओआरएस कार्नर स्थापित किया गया है। इस दौरान आशा सहयोगी इस अभियान में 0 से 5 वर्ष तक बच्चों के घर-घर जाकर अपनी सेवाएं देंगी। साथ ही एएनएम व मितानिन द्वारा ओआरएस के पैकेट व जिंक की गोलियां वितरित की जाएगी। लोगों में जागरूकता लाने साबुन से हाथ धोने पर जोर दिया जाएगा। दस्त व निर्जलीकरण से होने वाली मृत्यु को ओआरएस व जिंक गोली के साथ ही पर्याप्त पोषण देकर रोका जा सकता है। उन्होंने बताया कि दस्त की रोकथाम के लिए साफ पानी पीना, समय-समय पर हाथों को साफ पानी और साबुन से धोना, अपने आस पास साफ सफाई रखने के साथ ही स्तनपान, टीकाकरण व पोषण का अहम योगदान होता है। इन आदतों को भी दैनिक जीवन में शामिल किया जाना चाहिए। जन समुदाय को पखवाड़े के माध्यम से 0 से 5 साल तक के दस्त पीड़ित बच्चों तक ओआरएस के पैकेट व जिंक की गोलियां पहुंचाना सुश्चित किया जाएगा।

0 से 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों में दस्त और कुपोषण से होने वाली मृत्यु दर में कमी लाने और आमजन को जागरूक करने के उद्देश्य से 21 जून से डायरिया नियंत्रित पखवाड़े में ओआरएस और जिंक का वितरण जिला अस्पताल सहित सभी स्वास्थ्य केंद्रों में किया जा रहा है। जो कि 5 जुलाई तक आयोजित होगा। इस अवसर पर जिला कार्यक्रम प्रबंधक सुश्री स्मृति एक्का, जिला नोडल अधिकारी शिशु स्वास्थ्य,सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक तथा स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थिति थे।

------------------------

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close