Jashpur Car Accident: तेज रफ्तार कार के एक मोड़ में अनियंत्रित हो कर,पेड़ से टकराते गड्ढे में गिर गई। इस भीषण दुर्घटना में शिक्षक की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। दुर्घटनाग्रस्त कार में आग लग जाने से,मृतक का शव,वाहन में फंस कर बुरी तरह से जल गया। दुर्घटना रविवार और सोमवार की मध्यरात्रि जशपुर सन्नाा रोड में मनोरा चौकीक्षेत्र के ग्राम घाघरा के पास स्थित करदना घाटी के की मोड़ पर हुई।

क्षतिग्रस्त कार से एक व्यक्ति के जले हुए शव का अवशेष बरामद किया गया है। यह अवशेष कार मालिक का बताया जा रहा है। कार से बरामद शव के अवशेष एक ही व्यक्ति के हैं या घटना के वक्त इस कार में और भी कोई सवार था, इसकी जांच के लिए फारेंसिक की टीम से सेंपल लिया है। घटना स्थल की बारीकी से जांच भी दिनभर चलती रही। जानकारी के मुताबिक मनोरा चौकीक्षेत्र के ग्राम केसरा निवासी उदय भगत (33) हाईस्कूल सोनक्यारी में विज्ञान के शिक्षक थे। रविवार की रात 10 बजे वह अपने घर से अपनी ब्रेजा कार से दोस्तों के पास जाने की बात कहकर निकले थे। यह कार ग्राम घाघरा पार करने के बाद घाटी के पहले ही मोड़ पर सड़क किनारे पेड़ से जा टकराई। टक्कर की वजह से कार में आग लग गई।

कई घंटे बाद ग्रामीणों ने जब जंगल से उठ रही आग की लपटों को देखा तो मौके पर पहुंचे। वहां जलती हुई कार को देखकर ग्रामीणों ने इसकी सूचना मनोरा चौकी पुलिस को दी। चौकी की पुलिस जब मौके पर पहुंची तो कार धू-धूकर जल रहा था। आग की पलटें इतनी ज्यादा थी कि उसे बुझाने की तमाम कोशिशें बेकार जाती, इसलिए सूनी सड़क के किनारे जल रही कार को जलते ही छोड़ दिया गया। सुबह तक कार जलकर पूरी तरह से खाक को गई। सुबह मौके पर पुलिस के अधिकारी पहुंचे। एसएसपी डी रविशंकर की मौजूदगी में फोरेंसिक की टीम ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू की। कार की पिछली सीट से जले हुए शव के अवशेष बरादम किए गए हैं। यह अवशेष उदय भगत के शव के हैं या किसी और के यह जांच के बाद स्पष्ट हो पाएगा। इसके साथ ही इसकी जांच भी होगी कि कार में सिर्फ एक ही व्यक्ति था या एक से अधिक।

इसको लेकर आशंका

पिछली सीट पर शव के अवशेष मिलने को लेकर आशंका जताई जा रही है कि चालक सीट बेल्ट नहीं लगाया होगा। इसके चलते दुर्घटना के बाद वह पिछली सीट पर जा गिरा। या फिर आग लगने के बाद वह निकलने की कोशिश में पिछली सीट पर फंस गया होगा । बहरहाल स्थिति जांच के बाद ही स्पष्ट हो पाएगी

जली हुई कार से शव के अवशेष बरामद किए गए हैं। यह शव वाहन मालिक का है या नहीं, एक ही व्यक्ति का शव हैं या कार में घटना के वक्त और भी कोई मौजूद था, इसकी जांच के लिए सैंपल लिए गए हैं। लैब में जांच के बाद ही यह साफ हो पाएगा कि दुर्घटना में कितने लोगों की मौत हुई है और मरने वाला व्यक्ति कौन है?

शेर सिंह,एसडीओपी,बगीचा।

Posted By: Manoj Kumar Tiwari

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close