जशपुरनगर। प्रेमिका द्वारा धोखा दिए जाने से आहत प्रेमी ने ही स्वास्थ्य विभाग की महिला कार्यकर्ता की हत्या की थी। हत्या करने के लिए हत्यारे ने अपने साथ घर से ही कुल्हाड़ी लेकर आया था। गुरूवार को कुनकुरी थाना क्षेत्र के श्रीनदी पुल के पास बीच सड़क में दोपहर साढ़े 12 बजे हुई स्वास्थ्य कार्यकर्ता देवकी चक्रेश की हत्या के मामले का पर्दाफाश करते हुए जशपुर पुलिस ने दावा किया है।

जशपुर में आयोजित पत्रकारवार्ता में जानकारी देते हुए एसपी डी रविशंकर ने बताया कि मृतिका देवकी चक्रेश की हत्या की सूचना पर कुनकुरी थाना प्रभारी भास्कर शर्मा,रामजी साय पैंकरा,मानेश्वरसाहनी,चंद्रशेखर बंजारे,नंदलाल यादव,विनोदतिर्की,जितेन्द्र गुप्ता,संतोष राम और अजय श्रीवास्तव मौके पर पहुंचें। घटना स्थल से पुलिस टीम ने हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी,एक गमछा और मृतिका का मोबाइल और वाहन जब्त किया था। पुलिस टीम ने हत्या के सुराग के लिए मृतिका के काल डिटेल को खंगाला।

इससे अंतिम समय में मृतिका का आरोपी मनोज कुमार से बातचीत होने की बात सामने आई। संदेह के आधार पर कुनकुरी पुलिस ने मनोज कुमार का लोकेशन ट्रेस किया तो वह जशपुर में था। पुलिस ने पूछताछ के लिए उसे हिरासत में लिया। कुछ देर की पूछताछ में आरोपित ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि उसका मृतिका देवकी से पिछले 3-4 साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। आरोपी का कहना है कि मृतिका देवकी,जब रायपुर में रह कर नर्सिंग की पढ़ाई कर रही थी,तब वह मजदूरी कर,उसकी पढ़ाई का पूरा खर्चा उठा रहा था।

व्हाट्स एप हैक कर,पता किया दूसरे प्रेम प्रसंग -

लगभग 10 माह पूर्व देवकी की सीएचओ के पद पर नौकरी लगने पर वह रायपुर से अपने घर टांगरगांव आ गई और आरोपित को भी रायपुर से देवरी वापस बुला लिया। एसपी डी रविशंकर ने बताया कि बीते 15 दिनों से मृतिका उससे सही तरीके से बात नहीं कर रही थी। संदेह होने पर आरोपित ने वेब व्हाट्स ऐप सुविधा के माध्यम से मृतिका देवकी का व्हाट्सएप को हैक कर लिया। इससे उसे पता चला कि मृतिका का किसी दूसरे से नजदीकी बढ़ने लगी थी। पुलिस का दावा है कि आरोपित ने मृतिका और उसके दूसरे प्रेमी के बीच हुई चैटिंग का स्क्रीन शाट अपने मोबाइल में ले लिया था।

साड़ी खरीदने के नाम पर बुलाया था -

आरोपित मनोज कुमार ने गुरूवार 22 सितंबर को मृतिका देवकी को नवरात्रि के लिए नई साड़ी खरीदने की बात कहते हुए मिलने के लिए बुलाया था। मृतिका अपनी स्कूटी और आरोपित अपने बाइक से निकले और दोनो खारीझरिया के पास श्रीनदी के पुल के पास मिले। इस दौरान आरोपित ने मृतिका पर उसे धोखा देने का आरोप लगाते हुए,देविका को उसके मोबाइल की चैटिंग का स्क्रीन शाट दिखाया। इसके बाद भी देवकी ने दूसरे से प्रेम संबंध को सिरे से नकारा दिया। इससे आवेश में आकर मनोज ने देवकी पर कुल्हाड़ी से आक्रमण कर दिया। इससे,उसकी घटना स्थल पर ही मृत्यु हो गई। हत्या की घटना कारित कर,आरोपित भाग निकला था।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close