फरसाबहार (नईदुनिया न्यूज)। शुक्रवार को ग्राम पंचायत फरसाबहार में भीड़ जुटाकर राशन का वितरण किया गया। इस दौरान फिजीकल डिस्टेंस को लेकर शासन द्वारा जारी किए गए निर्देश का पालन नहीं किया गया। शहर से लेकर गांव तक इसे लेकर आम लोगों के साथ प्रशासनिक अमले की उदासीनता देखी जा सकती है। खासकर पंचायतों द्वारा संचालित उचित मूल्य के दुकानों में फिजीकल डिस्टेंस का पालन दुकान संचालकों के लिए परेशानी साबित हो रहा है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 24 मार्च को 21 दिन का लॉक डाउन घोषित किए जाने के बाद से पूरे देश में राशन सहित आवश्यक समान जुटाने को लेकर आम लोगों में घबराहट की स्थिति देखी जा रही है। घर में अधिक से अधिक समान जुटाने की होड़ में लोग दुकानों में फिजीकल डिस्टेंस के मापदंड को दरकिनार करते हुए नजर आ रहे हैं। इन दिनों ग्राम पंचायत फरसाबहार में भी शासन के निर्देश के मुताबिक हितग्राहियों को दो माह का राशन एक साथ दिया जा रहा है। इसके लिए वार्डवार राशन कॉर्डधारकों को पंचायत द्वारा संचालित उचित मूल्य का दुकान में आमंत्रित किया जा रहा है। शुक्रवार को यहां पंचायत के तीन वार्डो के हितग्राहियों को एक साथ बुला लिए जाने से काफी भीड़ जुट गई थी। स्थानीय ग्रामीण लक्ष्मी नारायण पटेल का कहना है कि पंचायत को एक-एक वार्ड करके राशन का वितरण करना चाहिए,इससे भीड़ का जमाव कम होगा और फिजीकल डिस्टेंसरख कर सहजता से हितग्राहियों को राशन वितरण किया जा सकेगा। वहीं सरपंच अरूण खलखो ने बताया कि वे राशन लेने के लिए सभी हितग्राहियों को निश्चित दूरी में खड़े रहकर राशन लेने की लगातार अपील कर रहे हैं। लेकिन इसका कोई असर नहीं पड़ रहा है।

--------------

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना