जशपुरनगर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले के सभी धार्मिक व प्राकृतिक पर्यटन स्थलों को प्लास्टिक मुक्त करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा चलाए जा रहे अभियान की कमान अब स्व सहायता समूह से जुड़ी महिलाएं सम्हालेगीं। इस अभियान में शामिल महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने के लिए इन पर्यटन स्थलों पर स्वच्छता अधिभार लगाने के लिए दोना पत्तल उपलब्ध कराने की पहल कलेक्टर महादेव कावरे और जिला पंचायत सीईओ केएस मंडावी के मार्गदर्शन में किया जा रहा है। योजना की जानकारी देते हुए सीईओ केएस मंडावी ने बताया कि पर्यटन स्थलों को स्वच्छ रखना पूरे समाज की जिम्मेदारी है। पर्यटन स्थल हमारे मनोरंजन के साथ तन और मन को नई ऊर्जा देने में अहम भूमिका निभाते हैं। लेकिन नया साल,मकर संक्रांति जैसे महत्वपूर्ण अवसरों पर इन पर्यटन स्थलों में जुटने वाली भीड़ द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले प्लास्टिक के कचरे का निबटान एक बड़ी समस्या साबित होती है। पर्यटन स्थलों पर सफाई की समुचित व्यवस्था ना होने की वजह से,यहां बिखरे हुए कचरे,पर्यटकों के तो खटकते ही हैं साथ ही आसपास रहने वाले ग्रामीणों के लिए बड़ी मुसीबत साबित होते हैं। इसे देखते हुए ग्रामीण स्वच्छता मिशन के तहत पर्यटन स्थलों को स्वच्छ रखने के लिए कार्ययोजना तैयार की गई है। इस योजना के तहत 13 जनवरी को बगीचा विकासखंड के पर्यटन एवं रमणीय स्थल दनगरी में स्वच्छता बेरियर और दस लाख की लागत से पर्यटकों के लिए बनाए जा रहें सामुदायिक शौचालय निर्माण कार्य का कलेक्टर महादेव कावरे ने भूमिपूजन किया। जिले का यह प्रसिद्ध पर्यटन स्थल आकर्षण का केंद्र है। जिले के साथ अन्य राज्य एवं विदेशों से भी पर्यटक दनगरी जलप्रपात को देखने के लिए बड़ी संख्या आते हैं। पर्यटकों की सुविधा के लिए दनगरी में जलप्रपात के पास सामुदायिक शौचालय का निर्माण किया जा रहा है। इसके लिए 5 लाख ग्रामीण स्वच्छता मिशन और 5 लाख खनिज न्यास निधि से उपलब्ध कराया गया है। इस दौरान कलेक्टर ने दनगरी में स्वच्छता बेरियर का शुभारंभ किया। जिसमें कलेक्टर ने स्वयं स्वच्छता शुल्क देकर लोगो को यह संदेश दिया कि यहां पर आने वाले समस्त आगंतुकों से स्वच्छता बेरियर के माध्यम से एक छोटी राशि लेकर पर्यटन स्थल में स्वच्छता स्थायित्व एवं सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रतिबंध रखेगें। कलेक्टर के साथ ग्रामवासियों ने भी जलप्रपात के पास श्रमदान करके प्लास्टिक दोना-पतल, डिस्पोजल की बोतल उठाकर एकत्र किया गया साथ ही पर्यटकों को भी आसपास स्वच्छता बनाए रखने की अपील गई। गांव के लगभग 200 लोगो में अंजली स्वग्राही समूह के साथ मिलकर सामूहिक रूप से श्रमदान किया गया।

------------

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस