कोल्हेनझरिया। नईदुनिया न्यूज। शराब मुक्त गांव का सपना को जमीन पर उतारने के लिए बीते एक साल से जूझ रहे ग्रामवासियों ने सहयोग की उम्मीद के साथ क्षेत्र की सांसद श्रीमती गोमती साय से सहायता की गुहार लगाई है। शराब विरोधी आंदोलन में जुटे इन ग्रामीणों की शिकायत है कि उन्हें पुलिस व आबकारी विभाग से अपेक्षित सहयोग नहीं मिल पा रहा है। जिससे एक साल तक उनके द्वारा किए गए मेहनत पर पानी पिᆬरता जा रहा है। गांव में नए सिरे से शराब के अवैध विक्रेता,चंद रूपए के चक्कर में गांव के नशे की गर्त में डूबोने में तुले हुए हैं। सांसद श्रीमती साय ने इन संघर्षरत लोगों को हरसंभव मदद का भरोसा देते हुए जिले के एसपी को पत्र लिखा है। इस पत्र में उन्होनें अवैध शराब बिक्री करने वालों के खिलापᆬ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

ग्राम पंचायत कोल्हेनझरिया में नशामुक्ति आंदोलन एक वर्ष से चलाया जा रहा है। इस आंदोलन में इस पूरे पंचायत के ग्रामीण शामिल है। शराब मुक्त पंचायत के सपने को पूरा करने के लिए यहां के ग्रामीण लगातार बैठक का आयोजन कर रणनीति बनाते हैं। एक साल के दौरान जागरूकता अभियान के तहत रैली सभा का आयोजन किया गया है। इसके साथ ही आबकारी व पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर शराब का अवैध निर्माण करने वालों के विरूद्व कार्रवाई भी की गई है। इस पूरे आंदोलन में महिलाएं सबसे अधिक सक्रिय भूमिका निभा रही है। बैठक में शामिल ग्रामीणों ने बताया कि नशामुक्ति आंदोलन को पूरे पंचायत में बेहतर प्रतिसाद मिल रहा है। पंचायत क्षेत्र में शराब का निर्माण और इसका सेवन आधे से भी कम रह गया है। लेकिन पिछले कुछ समय से इस पंचायत में कुछ लोग पुनः अवैध शराब का निर्माण कर रहे हैं। इससे पूरे पंचायत का महौल खराब हो रहा है और नशा मुक्ति के लिए अब तक किए गए तमाम प्रयासों पर पानी पिᆬर रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि इसकी शिकायत वे पुलिस प्रशासन के साथ कलेक्टर जनदर्शन कार्यक्रम के माध्यम से जिला प्रशासन से भी कर चुके हैं। लेकिन अब तक अवैध शराब बनाने वालों के खिलापᆬ कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। इससे अवैध शराब विक्रेताओं के हौंसले बुलंद होता जा रहा है। शराब बनने की वजह से ग्रामीण एक बार पिᆬर नशे की लत की ओर तेजी से आकर्षित हो रहे हैं। अगर इसे यहीं पर नहीं रोका गया तो नशा मुक्ति की ओर तेजी से आगे बढ़ रहा कोल्हेनझरिया पंचायत एक बार पिᆬर नशे की गर्त में गिरने का खतरा मंडरा रहा है। अपने इस आंदोलन को सपᆬल बनाने के लिए अब भी कोल्हेनझरिया के ग्रामीण मजबूती से खड़े हुए है।

सांसद ने एसपी को लिखा पत्र

कोल्हेनझरियावासियों द्वारा शराबमुक्त गांव के लिए किए जा रहे प्रयास की सराहना की है। उन्होनें कहा नशा,नाश का जड़ होता है। शराब की बढ़ती प्रवृत्ति के कारण लोगों को गरीबी,अशिक्षा और बेरोजगारी से मुक्ति दिलाने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों का लाभ नहीं मिल पाता है। परिवार में एक व्यक्ति भी नशे के चुंगल में पᆬंस जाए तो इसका असर पूरे परिवार पर पड़ता है। ग्रामवासियों की सहायता के लिए सांसद श्रीमती साय ने एसपी शंकरलाल बघेल और थाना प्रभारी को पत्र लिखकर कोल्हेनझरिया में शराब के अवैध कारोबार में जुटे लोगों के खिलापᆬ सख्त कार्रवाई करने का अनुरोध किया है।

------------

Posted By: Nai Dunia News Network