जशपुरनगर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। मछली मटन बाजार को जिला प्रशासन ने शहर से लगभग 1 किलोमीटर दूर टिकैतगंज के समीप स्थानांनतरित कर दिया गया है। इस बाजार में अवैध गतिविधियों को काबू में करने के लिए प्रशासन ने व्यवसाईयों की एक समिति गठित करने का निर्णय लिया है। जशपुर के एसडीएम बालेश्वर भगत ने बताया कि मछली मटन मार्केट को शहर से बाहर शिफ्ट करने की मांग पहले से शहरवासियों की ओर से की जा रही थी। जनभावना का सम्मान करते हुए कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने यह पहल किया है। उन्होनें बताया कि अब तक 48 मांसाहारी व्यवसाईयों का चयन किया जा चुका है। इन्हें दुकानों का आबंटन लाटरी पद्वति से किया जाएगा। दुकानों को व्यवस्थित करने के लिए मछली,मुर्गा और मटन विक्रेताओं के लिए अलग अलग पंक्ति निर्धारित किया गया है। इसके साथ ही सफाई और पानी की व्यवस्था भी की जा रही है। दुकान आबंटन के लिए व्यवसाईयों से 1 हजार रूपए का शुल्क नगरपालिका द्वारा किया जा रहा है। जानकारी के लिए बता दें कि बीते 9 जून को दैनिक और मटन मुर्गा बाजार के एक कपड़ा दुकान में गौमांस बेचे जाने का एक मामला उजागर हुआ था। इस घटना के बाद जिले भर में बवाल मच गया था। जिला बंद कराएं जाने के साथ ही दो समुदायों के बीच तनाव की स्थिति भी निर्मित हो गई थी। इस घटना के बाद दैनिक बाजार और मटन बाजार को खाली कराया गया था।

समिति रखेगी अवैध कारोबार पर नजर -

इस मटन मछली बाजार में अवैध कारोबार पर नकेल कसने के लिए जिला प्रशासन ने पुख्ता व्यवस्था की है। बीते दिनों हुई घटना को देखते एसडीएम ने व्यवसाईयों को प्रतिबंधित मांस की बिक्री न करने की सख्त हिदायत दी है। इसके साथ ही उन्होनें इसकी निगरानी के लिए एक समिति बनाने का भी निर्णय लिया है। यह समिति इस तरह की गतिविधियों की निगरानी करेगी और मामला आने पर तत्काल पुलिस को इसकी सूचना देगी। भविष्य में इस तरह का मामला उजागर होने पर समिति की पहली जिम्मेदारी होगी।

द्यकलेक्टर रितेश अग्रवाल की पहल पर जनभावना का सम्मान करते हुए मटन मछली बाजार को शहर के बाहर शिफ्ट किया गया है। दुकानों का चिन्हाकंन कर,लाटरी पद्वती से इसका आबंटन करते हुए,व्यवस्था बनाएं रखने के लिए समिति का गठन किया जा रहा है।द्य

बालेश्वर भगत,एसडीएम,जशपुर।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close