जशपुरनगर(नईदुनिया प्रतिनिधि) । मंगलवार को विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर शहर के समीप स्थित ग्राम गिरांग झांझ और मांदर की मधुर ध्वनी से गूंज उठा। जिले भर से आए आदिवासी समाज के लोगों ने एक तीर एक कमान,आदिवासी एक समान का नारा लगाते हुए,अपनी सामाजिक एकता का संदेश दिया। गिरांग के खेल मैदान में सर्व आदिवासी समाज के बैनर तले जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया था। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त मजिस्ट्रेट भुवनेश्वर प्रधान,सेवानिवृत्त जिला मजिस्ट्रेट निकोदिम एक्का और सेवानिवृत्त उप पुलिस अधिक्षक आदित्य राम भगत थे। रिमझिम बारिश के बीच,मुख्य अतिथियों के कार्यक्रम स्थल में पहुंचने पर आदिवासी समाज के सदस्यों ने लोकनृत्य और संगीत के साथ पुष्प गुच्छ भेंट कर,उनका स्वागत किया। कार्यक्रम का शुभारंभ संविधान निर्माता बाबा भीमराव अंबेडकर के तैल्य चित्र पर पुष्पहार अर्पित कर किया गया। आदिवासी दिवस के अवसर पर आयोजित लोक नृत्य प्रतियोगिता में जिले के विभिन्ना लोक नतृक दलों ने भाग लिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सेवा निवृत्त जिला मजिस्ट्रेट निकोदिम एक्का ने कहा कि भारत सहित पूरे विश्व के विभिन्ना देशों में आदिवासी समाज फैला हुआ है। इन आदिवासियों की अपनी अलग संस्कृति,रीति और रूढ़ियां है। इनसे यह दूसरे समाज से अलग पहचान बनाती है। 1994 में संयुक्त राष्ट्र संघ ने इन्हीं जनजातियों को संरक्षित करने और विकास की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस घोषित किया था। सर्वआदिवासी समाज के जिलाध्यक्ष अनिल किस्पोट्टा ने कहा कि विश्व आदिवासी दिवस,जनजातिय समाज के लिए सबसे बड़े त्यौहारों में से एक है। यह एक ऐसा दिन है,जब विश्व भर के सारे आदिवासी अपनी संस्कृति और परम्परा के अनुसार खुशियां मनाते हैं। उन्होनें कहा कि आदिवासी समाज को अब भी आर्थिक और सामाजिक रूप से सशक्त बनाने की आवश्यकता है। इसीलिए,संयुक्त राष्ट्रसंघ ने 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस घोषित किया है। कार्यक्रम को विनोद प्रधान,रोहित खलखो और प्रदीप खेस्स ने भी संबोधित किया।इस कार्यक्रम में नगर पंचायत बगीचा के अध्यक्ष डा सीडी बाखला,डा शिशिर मिंज,डीसी राम,सुरेश भगत,सरोज भगत,सेराफिलुस केरकेट्टा,बलिराम नगेशिया,शिवदयाल मुंडा,गोसनर टोप्पो,शिशि भगत,हीरू राम निकुंज,अजय टोप्पो,सुभाष बाखला,जार्ज कुजूर,देवलाल भगत,श्रीमती कल्पना लकड़ा,श्रीमती इस्तेला कुजूर,श्रीमती इवेथ लकड़ा,श्रीमती नील कुसुम कुजूर और उर्मिला भगत भी शामिल थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close