जशपुरनगर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में सरकारी आयोजन,कांग्रेसी कार्यक्रम बन कर रह गए है। इनके आयोजन में ना तो प्रोटोकाल का पालन हो रहा है और ना ही सरकार के नियमो का। कार्यक्रम पूरी तरह से सरकारी खर्च पर एक राजनीतिक दल विशेष के गुणगान का माध्यम बन कर रह गया है। सत्तारूढ़ दल के नेताओ के दबाव के आगे पूरा प्रशासनिक तंत्र पंगु हो गया है। शासकीय कार्यक्रमो में भाजपा के जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा से भड़के कांसाबेल क्षेत्र के डीडीसी सालिक साय ने उक्त बातें कही है। उन्होंने कहा कि तीन साल में छत्तीसगढ़ को विकास के मामले में 30 साल पीछे ढकेलने वाले कांग्रेसियों को श्रेय लेने की भूख इस कदर बढ़ गई है कि वे केंद्र सरकार की योजनाओं और उपलब्धियों को अपना बता कर बेसुरा राग अलाप रहे हैं। बिजली बिल हाफ,धान खरीदी,कर्ज माफी जैसे तमाम झूठे चुनावी वायदों की हकीकत जनता के सामने आ गई है। इनसे चेहरा छुपाने के लिए कांग्रेसी अब सरकारी तंत्र और जनता के पैसे का दरुपयोग कर रही है। दरअसल यह पूरा विवाद गत दिनों कांसाबेल में आयोजित ब्लाक स्तरीय युवा महोत्सव में डीडीसी सालिक साय सहित दूसरे जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा के बाद उठा है। इस आयोजन के लिए स्थानीय प्रशासन द्वारा जारी किए गए आमंत्रण पत्र और आमंत्रित अतिथियों की सूची में गैर कांग्रेसी जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा किये जाने ला आरोप लगाया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक कांसाबेल में पर्यावरण संरक्षण के बने 20 लाख के लागत से गार्डन का आज उद्घाटन समारोह आयोजित की जा रही है, उसमें भी डीडीसी सालिक साय को किसी प्रकार की सूचना नहीं मिली है,जबकि क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य सालिक साय द्वारा कलेक्टर की बैठक में कांसाबेल मुख्यालय में अतिक्रमण रोकने के लिए पर्यावरण संरक्षण औषधि गार्डन की मांग रखी थी जिस पर बैठक में तत्काल वन विभाग के डी एफ ओ द्वारा मांग पर तत्काल प्राक्कलन तैयार करने के निर्देश दिए जिस पर 20 लाख रुपए की स्वीकृति दी गई थी।

---------

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local