जशपुरनगर। नईदुनिया प्रतिनिधि। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत राशन पंचायत द्वारा दो माह से नहीं दिए जााने से नाराज ग्रामीण शुक्रवार को लामबंद होकर कलेक्टरोरेट पहुंचे। यहां कलेक्टर को मुलाकात कर ग्रामीणों ने सरपंच,सचिव और सेल्समैन के खिलापᆬ कार्रवाई की मांग की है। ग्रामीणों का आरोप था कि पंचायत में सामाजिक पेंशन के वितरण में भी गड़बड़ी की जा रही है। इस दौरान अधिकारियों ने मामले की जांच कर कार्रवाई का भरोसा ग्रामीणों को दिया है।

जशपुर जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत बरगांव से आए ग्रामीणों का कहना था कि उन्हें पंचायत से दो माह से राशन नहीं दिया गया है। पंचायत के रवैए भड़के ग्रामीणों ने कलेक्टर को सौंपे ज्ञापन में बताया कि पंचायत द्वारा संचालित दुकान में राशन लेने जाने पर उन्हें प्रशासन से चावल की आपूर्ति ना होने की बात कहते हुए वापस भेज दिया जाता है। ग्राामीणों का आरोप था कि सरपंच और सेल्समैन अब दबंगई पर उतर आए हैं। राशन आपूर्ति ना किए जाने की शिकायत प्रशासन से शिकायत करने की चेतावनी दिए जाने वे दो माह में जेल से बाहर आने जाने की बात कहते हुए अपने ऊंची पहुंच का धौंस दिखाते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि राशन ना मिलने से उन्हें परिवार का भरण पोषण करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पंचायत के इस मनमाने रवैए से यहां के 300 परिवार हलाकान हो रहे हैं। प्रभावित सभी परिवार गरीबी रेखा से नीचे निवास करने वाले हैं। कृषि कार्य और मजदूरी के बूते ही इन परिवारों का आजीविका चलता है। सरकारी राशन पर पूरा परिवार आश्रित रहता है। पंचायत के इस मनमानी और दबंगई से पूरे पंचायत में नाराजगी व्याप्त है। परेशान ग्रामीणों ने बताया पंचायत द्वारा राशन वितरण ना करने की शिकायत वे पूर्व में भी तीन बार कर चुके हैं। लेकिन अधिकारियों द्वारा जांच का भरोसा दिए जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है। भड़के हुए ग्रामीणों ने समस्या का समाधान ना होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

पेंशन व केरोसिन वितरण में गड़बड़ी का भी आरोप

ग्राम पंचायत बरगांव से आए ग्रामीणों ने पंचायत पर सामाजिक पेंशन और मिट्टी तेल वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। ग्रामीणों का कहना है कि पंचायत द्वारा सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के हितग्राहियों को कभी समय पर पेंशन नहीं दिया जाता है। इतना ही नहीं ग्रामीणों ने पंचायत पर पेंशन वितरण में गड़बड़ी करने का आरोप लगाते हुए इसकी जांच की मांग की है। इनका कहना था कि पंचायत क्षेत्र के पूरे हितग्राहियों को किसी माह राशि का वितरण नहीं किया जाता है। इस राशि को बचाकर इसका बंदरबाट किया जाता है।

ग्राम पंचायत में राशन वितरण में अनियमितता की शिकायत ग्रामीणों ने की है। इसकी जांच कराकर उचित कार्रवाई की जाएगी।

आरएन पांडें,डिप्टी कलेक्टर,जशपुर।

--------