जशपुरनगर। जशपुर में हिंदू युवती व मुस्लिम युवक के प्रेम प्रसंग से तनाव की स्थिति बन गई है। प्रकरण चार साल पुराना है। तब युवती नाबालिग थी इसलिए पुलिस ने उसे सखी सेंटर भेज दिया था। बालिग होने पर युवती ने मुस्लिम युवक के साथ जाना चाहा तो भेज दिया गया। स्थिति मंगलवार को तब बिगड़ी जब उस युवती का एक शपथ पत्र इंटरनेट मीडिया में वायरल हो गया। इसमें युवती ने मुस्लिम धर्म अपनाने की सहमति दी है। इस बात को लेकर बस स्टैंड में दोनों पक्ष के युवकों के बीच मारपीट हुई। बाद में थाने में समझौता हो गया। रात में रौनियार समाज के लोगों ने बैठक की और इसके बाद करीब डेढ़ सौ लोग लव जेहाद बंद हो नारेबाजी करते हुए एसपी कार्यालय पहुंच गए। युवती के स्वजनों का कहना है कि लड़की की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।

उसे छुड़ाया जाए और युवक पर केस दर्ज किया जाए। लगभग डेढ़ घंटे की समझाइश के बाद पुलिस प्रशासन को कार्रवाई के लिए 24 घंटे की मोहलत देते हुए वापस लौट गई। इस मामले को लेकर बुधवार को भी शहर का वातावरण तनावपूर्ण रहा। इंटरनेट मीडिया में लोगों के बीच तीखी बहस होती रही। इस बीच मामले में कार्रवाई के लिए पुलिस प्रशासन को दी गई समय सीमा बुधवार की रात को खत्म हो गई। मामले में आगे की रणनीति बनाने के लिए हिंदू संगठनों का बैठक देर शाम तक जारी है। बैठक में चक्काजाम और जिला बंद के प्रस्ताव पर भी विचार किया जा रहा है। एएसपी उमेश कश्यप ने बताया कि युवती के स्वजनों ने परिवार को धमकी देने और शपथ पत्र में दबावपूर्वक युवती से हस्ताक्षर कराने की शंका जताई है। उन्होनें बताया कि इन शिकायतों की जांच की जाएगी और तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। एएसपी कश्यप ने बताया कि इंटरनेट में वायरल हो रहे शपथ पत्र भी पुलिस प्रशासन के जांच के दायरे में है।

मामले में युवती के स्वजनों द्वारा की गई शिकायत की जांच की जाएगी।तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। - उमेश कश्यप, एएसपी, जशपुर

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close