गांजा तस्करी मामले की जांच के लिए दो टीम गठित कर मप्र और ओडिशा भेजा गया

जले हुए वाहन से गांजा के सबूत जुटाने पत्थलगांव पहुंची सीएफएल की टीम

फोटो 16 जेएसपी 10 : पत्थलगांव पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपित बबलू विश्वकर्मा और शिशुपाल साहू

पत्थलगांव (नईदुनिया न्यूज)। शुक्रवार को मां दुर्गा के प्रतिमा विसर्जन के लिए निकले शोभा यात्रा के दौरान हुए भीषण हादसे के सिलसिले में गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपितों को पुलिस ने न्यायिक अभिरक्षा में जेल दाखिल कर दिया है। पुलिस ने जले हुए वाहन के राख को जांच के फोरेंसिक जांच के लिए भेज रही है। रिपोर्ट मिलने पर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी। शुक्रवार को पत्थलगांव के रायगढ़ रोड में दोपहर तकरीबन डेढ़ बजे,तेज रफ्तार जाइलो वाहन बेकाबू हो कर शोभा यात्रा में घुस गई थी। इस भीषण हादसे में एक युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई थी और 16 घायल हुए हैं। चार गंभीर घायलों का इलाज रायगढ़ के मेडिकल कालेज में किया जा रहा है। हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आक्रोशित भीड़ के बीच में फंसे आरोपितों को निकाल कर थाना ले आई थी। यहां इनकी शिनाख्त मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले के बैढना निवासी बबलू विश्वकर्मा और इसी जिले के बरगांव निवासी शिशुपाल साहू के रूप में हुई थी। इनके विरूद्व पत्थलगांव पुलिस ने धारा 304 ए,302, 34 और एनडीपीएस एक्ट की धारा 20 बी के तहत अपराध दर्ज किया है। गिरफ्तार किए गए इन आरोपितों का मध्यप्रदेश में आपराधिक बैक ग्राउंड खंगालने के साथ ही पुलिस,एफएसएल टीम के सहयोग से जले हुए वाहन का परीक्षण कर,गांजा की मौजूदगी का सबूत जुटाने का प्रयास कर रही है। जांच में जुटी पुलिस गांजा को ओडिशा से किस स्थान से लाने और इसे ले जाने के संबंध में भी पतासाजी करने में जुटी हुई है। मामले की तह तक जाने और सबूत जुटाने के लिए जशपुर पुलिस की एक टीम ओडिशा और दूसरी को मध्यप्रदेश के सिंगरौली रवाना किया गया है। इस टीम में पत्थलगांव के प्रभारी एसडीओपी अब्दुल अलीम खान उप निरीक्षक वंशनारायण शर्मा, उप निरीक्षक ललित नेगी एवं सहायक उप निरीक्षक एनके साहू शामिल हैं।

------

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local