पत्थलगांव(नईदुनिया न्यूज)। आम लोगों और पुलिस के बीच विश्वास बढ़ाने के साथ ही लोगों को भरोसे में लेकर अपराधों की रोकथाम और नियंत्रण के प्रयासों में जुटी पत्थलगांव पुलिस ने रक्षाबंधन के पर्व पर खाकी संग राखी कार्यक्रम चलाया। इस दौरान लोगों को यातायात संबंधी नियमों के साथ ही विविध विषयों पर कानूनी जानकारी दी गई।

उल्लेखनीय है कि पुलिस अधीक्षक जशपुर डी रविशंकर,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक उमेश कश्यप व अनुविभागीय अधिकारी पुलिस पत्थलगांव मयंक तिवारी के निर्देशानुसार थाना पत्थलगांव में श्रीमती मल्लिका तिवारी द्वारा विश्वास अभियान चलाया जा रहा है। अपनी पदस्थापना के बाद से ही थाना प्रभारी श्रीमती मल्लिका तिवारी पुलिस और आम जनता के बीच दूरी कम करने और पुलिस को लेकर लोगों के दिल में भरोसा जगाने के लिए अलग-अलग माध्यमों से प्रयासों में जुटी हैं। कभी गांवों में शिविर लगाकर तो कभी स्कूलों में विद्यार्थियों को कानून संबंधी जानकारी देकर लोगों को इनके पालन के लिए प्रेरित किया जा रहा है। श्रावण मास में पवित्र किलकिलेश्वर धाम में सोमवार को जुटने वाली श्रद्धालुओं की भीड़ के बीच लोगों की सुरक्षा के इंतजाम करने के साथ ही वे उन्हें जागरूक बनाने के प्रयासों में भी जुटी रहीं। इसके अनुक्रम में 11 अगस्त को रक्षाबंधन के पर्व पर उनके मार्गदर्शन में पुलिस ने विश्वास अभियान चलाया। इस दौरान लोगों को ट्रैफिक नियमों के बारे में भी जानकारी एवं समझाइश दी गई। श्रीमती तिवारी ने लोगों को बताया कि मानव जीवन ईश्वर की अमूल्य देन है। परंतु थोड़ी सी लापरवाही के कारण देश भर में प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग यातायात दुर्घटना का शिकार होकर अपनी जान गंवा देते हैं। इसका खामियाजा केवल उन्हें ही नहीं भुगतना पड़ता अपितु पीड़ित व्यक्ति का परिवार जीवन भर दुर्घटना का दंश झेलने केा मजबूर होता है। उन्होंने लोगों को समझाइश दी कि यातायात के छोटे-छोटे नियमों का पालन कर बड़ी दुर्घटना और परिवार की मुसीबतों को टाला जा सकता है। इस दौरान उन्होंने ग्राम गाला जाकर इस पावन पर्व पर पुलिस और जनता के बीच सामंजस्य बैठाते हुए सौहार्द्र व एकता का परिचय दिया। अभिव्यक्ति ऐप कार्यक्रम के बारे में भी लोगों को जानकारी दी गई। खास तौर पर महिलाओं और बालिकाओं को इस एप की उपयोगिता समझाते हुए इसका उपयोग करने के लिए प्रेरित किया गया। कार्यक्रम में युवाओं एवं बच्चों को नशा उन्मूलन,एटीएम ठगी, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसे विषयों पर समझाइश देने के साथ ही पुलिस और आम जनता के बीच की दूरी को दूर कर दोनो के मध्य अच्छे रिश्ते को मजबूत बनाने पर जोर दिया गया। साइबर अपराध एवं महिला संबंधी अपराधों के विषय में भी जानकारी दी गई।

-----------

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close