(सड़क दुर्घटना का मोनो जरूर लगाएं)

0- सरोना कॉलेज में यातायात जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

कांकेर। नईदुनिया न्यूज

शासकीय महाविद्यालय सरोना में यातयात पुलिस सेवा जिला द्वारा यातायात जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में केआर रावत सहायक उपनिरीक्षक यातायात जिला कांकेर रहें। रावत ने छात्र-छात्राओं को बहुत ही रोचक व प्रभावी शैली में पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन दिया। 'सुरक्षित चले और सुरक्षित रहें' विषय पर छत्तीसगढ़ राज्य में सड़क दुर्घटनाओं से हुई मौतों की संख्या वर्ष 2018 में 4592 है। सड़क दुर्घटनाओं में हुई मौतों का मुख्य कारण ओवरस्पीड, बिना हेलमेट दो पहिया वाहन चालाना, सीट बेल्ट नहीं बांधना, शराब या मादक द्रव्य का सेवन करना या नशे की हालत में गाड़ी चलाना है। सिग्नल का उल्लंघन करना तथा वाहन चलाते वक्त मोबाइल का प्रयोग करना भी दुर्घटना का प्रमुख कारण बताया।

हादसे के कई कारण

कार्यक्रम में अनियंत्रित गति, ओवर टेकिंग और वाहन की नियमित जांच नहीं करना भी हादसे के कारण बन सकते हैं। सड़क सुरक्षा अभियान के तहत बहुत उपयोगी जानकारी प्रदान की गई। सड़क सुरक्षा का आधार, उचित रखो वाहन का रफ्तार। शासकीय महाविद्यालय सरोना में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं द्वारा रोचक जानकारी को अमल में लाने की बात कही गई। विद्यार्थियों को यह भी कहा कि 16 वर्ष की आयु में ही आप सभी ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकते हैं, बिना लाइसेंस की गाड़ी नहीं चलाएंगे।

आरटीओ के नियमों को करें पालन

कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सरला आत्राम के उपस्थिति में यह कार्यक्रम संचालित किया गया, जो कि विद्यार्थियों के लिए बहुत ही उपयोगी रहा। डॉ. मिथलेश सिन्हा प्रोफेसर बॉटनी द्वारा वक्ताओं का धन्यवाद देते हुए उपयोगी जानकारी प्रदान करने के लिए आभार व्यक्त किया गया। सड़क और परिवहन के क्षेत्र में सूचना और प्रौद्योगिकी का उपयोग कर आरटीओ के नियमों का पालन की बात कही गई। महाविद्यालय इस कार्यक्रम में प्रोफेसर रधिक ध्रुव तथा प्रोफेसर सुयश सिंह टीआर साहू उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket