भानुप्रतापपुर। विकासखंड भानुप्रतापपुर के ग्राम केवटी में धान खरीदी केंद्र में 67 लाख रुपये की हेराफेरी का मामला उजागर हुआ है। खाद्य विभाग द्वारा जांच के पश्चात धान खरीदी घोटाले में संलिप्त चार लोगों के खिलाफ भानुप्रतापपुर थाने में एफआइआर दर्ज की गई। उसके बाद शनिवार को भानुप्रतापपुर पुलिस द्वारा आरोपितों केंद्र प्रबंधक महेंद्र कुमार वैद्य, खरीदी प्रभारी संतोष कुमार दरों, कंप्यूटर आपरेटर अनिल टांडिया, बारदाना प्रभारी गजेंद्र कुमार चित्रसेन को गिरफ्तार कर रिमांड में जेल भेज दिया गया है।

थाना प्रभारी तेजराम वर्मा ने बताया कि खाद्य विभाग द्वारा शिकायत के बाद पूरी जांच की गई। जिसमें खरीदी में दर्शाई मात्रा से 529 क्विंटल धान की मात्रा कम पाई गई। वहीं लगभग पांच हजार बारदाना भी कम पाया गया। घटत धान और शार्ट बारदानों की कुल कीमत लगभग 66 लाख होती है। जांच अधिकारियों ने जांच के दरमियान अनियमितता की शिकायत को सही पाया। जिसके आधार पर चार आरोपितों पर कार्रवाई की गई है। चारों आरोपितों को स्थानीय न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक रिमांड पर जेल भेजने की कार्रवाई की गई।

सेवानिवृत शिक्षक को समारोह आयोजित कर दी विदाई

पूर्व माध्यमिक शाला बहना पानी में प्रधान पाठक कृपाराम कावड़े की सेवानिवृत्ति पर पूरा गांव उमड़ पड़ा, उन्हें गाजे-बाजे के साथ उनके घर तक छोड़ा। रास्ते में गांव के लोगों ने शिक्षक की आरती उतारी और पैर धोए। शाला के शिक्षकों और ग्राम वासियों ने शाल श्रीफल और स्मृति चिन्ह भेंट कर शिक्षक को सम्मानित किया। इस अवसर पर कक्षा पहली और छठवीं के नव प्रवेश ही बच्चों को पुस्तक और गणवेश देकर और तिलक लगाकर स्वागत किया गया। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक कुंदन लाल साहू के द्वारा किया गया। इस अवसर पर शिक्षक मुकेश तारम, मोतीलाल साहू, कुलेश्वरी साहू, वीर सिंह नेताम सहित सरपंच सुभाष ध्रुव, उपसरपंच संजय ध्रुव और बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close