अन्तागढ़। ऐसे तो मशरूम आज फाइव स्टार डिश भी बन गया है जिसे बड़े-बड़े होटलों में परोसा जाता है और लोग इसे पसंद भी करते हैं, किन्तु ग्रामीण क्षेत्र में निकलने वाले देशी मशरूम की बात ही अलग है। देशी मशरूम खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। वैसे तो मशरूम की सब्जी हर कोई खाना पसंद करता है लेकिन बहूत कम लोग ही इसके फायदे जानते हैं। एंटी-ऑक्सीडेंट्स, प्रोटीन, विटामिन डी, सेलेनियम और जिंक से भरपूर मशरूम का इस्तेमाल कई दवाइयां बनाने के लिए किया जाता है। इसमें मौजूद पौषक तत्व शरीर को कई खतरनाक बीमारियों से बचा कर रखते हैं। इसके अलावा इसका सेवन इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करता है।

देशी मशरूम या जिसे स्थानीय भाषा मे फुटू भी कहा जाता है, ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों लिए मौसमी आय का एक जरिया भी बन गया है, ऐसे तो ये मशरूम जिसे दशहरा फुटू भी कहा जाता है नाम के अनुरूप दशहरा पर्व के आसपास बरसात के अंत में खेत की मेड़ों एवं जंगलों में पर्याप्त मात्रा में मिल जाता है। ग्रामीणों के साथ नगरीय क्षेत्रों के लोगों द्वारा इस मशरूम की सब्जी को काफी पसंद किया जाता है। अंतागढ़ के बाजार में मशरूम बेचने पहुंची बिनापाल निवासी सियाबती समरथ ने बताया कि वह हर साल इस सीजन में मशरूम बेचने आती है। यह मशरूम अच्छी बारिश होने पर जंगल व खेतों की मेड़ों पर निकलता है, जिसे वह कभी 150 रुपये किलो तो कभी 175 रुपये किलो के हिसाब से बेचती है।

मशरूम का सेवन अपच, पेच दर्द, कब्ज, गैस और एसिडिटी की समस्या को भी दूर करता है। ओएस्टर और फ्लोरिडा मशरूम खाने से कई प्रकार की बीमारियां ठीक की जा सकती है। ऐसे तो मशरूम की खेती व्यावसायिक स्तर पर की जाने लगी है किंतु जानकारों की माने तो देसी फुटू जो जंगलों एवं खेतों में प्राकृतिक रूप से पनपता है उसके फायदे एवं स्वाद व्यावसायिक स्तर पर उगाए गए मशरूमों की तुलना काफी ज्यादा होते हैं यही वजह है जब भी कोई ग्रामीण इन मशरूमों को बेचने आता है तो उसे लेने लोगों की भीड़ लग जाती है।

स्वादिष्ट होने के साथ औषधीय गुण भी

अंतागढ़ के आयुर्वेदिक चिकित्सक राजेश कौशल ने बताया कि मशरूम या फुटू स्वादिस्ट होने के साथ साथ फुटू में अनेक औषधीय गुण भी पाए जाते हैं-जैसे इसमें बीटा ग्लाइसीन और लिनॉलिक एसिड होता है, जो प्रोस्टेट और ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को कम करता है। मशरूम का सेवन करने से वजन जल्द से जल्द कम करने में मदद मिलती है। इसे उबाल कर ब्रेकफास्ट में शामिल कर सकते हैं। मशरूम में कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा कम होने के कारण यह ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मददगार होते हैं। डायबिटीज मरीजों के लिए यह सबसे अच्छा फूड है। इम्युनिटी पावर सेलिनियम से भकपूर मशरूम इम्यून पॉवर को बढ़ाने के साथ-साथ सर्दी-खांसी और जुकाम जैसी समस्याओं को शरीर से दूर रखते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local