कांकेर। ग्राहकों की ईएमआइ की राशि गबन करने के मामले में पुलिस ने आरोपित बैंककर्मी को गिरफ्तार किया है। बैंककर्मी पर तीस ग्राहकों की ईएमआइ की राशि के दो लाख रुपये से अधिक के गबन को आरोप है। मामले में दो साल पहले बैंक प्रबंधन की ओर से पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पुलिस मामले की जांच के बाद आरोपित की तालश कर रही थी।

बैंक से कर्ज लेने के बाद किस्तों में बैंक का कर्ज वापस जमा करने वाले ग्राहकों की किस्तों की राशि बैंक में जाम न कर उसे गबन करने वाले तत्कालीन बैंककर्मी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सहायक प्रबंध क्वेस कार्प शाखा रायपुर सूर्यकांत तिवारी ने पुलिस थाना कांकेर में 17 अगस्त 21 को रिपोर्ट दर्ज कराया था।

एक्सिस बैंक कांकेर की आडिट के दौरान ज्ञात हुआ कि फरवरी 2020 में एक्सिस बैंक कांकेर ब्रांच में कृषि और ग्रामीण बैंकिंग वित्त विभाग में कार्य करने वाले आरोपित घनश्याम बनारसी निवासी मिनीमाता चौक भठैली भखारा जिला धमतरी ने बैंक में काम करते हुए ग्रामीण क्षेत्र के 30 से अधिक ग्राहकों की लोन ईएमआइ की राशि प्राप्त किया था। लेकिन आरोपित कर्मचारी ने ईएमआइ की राशि बैंक में जमा ना कर गबन कर लिया। बैंक में आडिट होने पर जानकारी हुई कि आरोपित 2,11,181 रुपये को गबन कर फरार हो गया है।

थाना प्रभारी शरद दुबे ने बताया कि प्रार्थी की रिपोर्ट पर पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। विवेचना के दौरान संकलित साक्ष्‌यों से यह प्रमाणित पाया गया आरोपित घनश्याम बनारसी ने एक्सिस बैंक शाखा कांकेर के ग्रामीण एवं बैंकिंग वित्त विभाग में काम करते हुए पांच से दो अगस्त 2020 तक बैंक के लोन कस्टमर से लोन ईएमआइ की राशि एकत्र कर पावती रसीद तो देता था। लेकिन उक्त राशि को उनके खाते में जमा नहीं करता था। थाना कांकेर पुलिस द्वारा विवेचना बाद आरोपित घनश्याम बनारसी के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया गया था और उसकी पता तलाश की जा रही थी। इसी बीच आरोपित के रायपुर में होने की सूचना मिली थी। जिस पर कांकेर थाने से टीम रायपुर रवाना की गई थी, जहां से आरोपित घनश्याम को गिरफ्तार किया गया। आरोपित को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close