कांकेर। नगर पंचायत नरहरपुर के आम निर्वाचन को लेकर कलेक्टर चंदन कुमार ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक लेकर निर्वाचन कार्यक्रम की जानकारी देते हुए आदर्श आचरण संहिता का पालन करने को कहा। इस दौरान पुलिस अधीक्षक शलभ कुमार सिन्हा, अपर कलेक्टर सुरेंद्र प्रसाद वैद्य, उप जिला निर्वाचन अधिकारी गौरीशंकर नाग भी मौजूद थे।

कलेक्टर चंदन कुमार ने बताया कि निर्वाचन के लिए सूचना का प्रकाशन 27 नवंबर शनिवार को पूर्वान्ह 10.30 बजे किया जाएगा, साथ ही सीटों का आरक्षण के संबंध में भी सूचना का प्रकाशन किया जाएगा तथा मतदान केंद्रों की सूची भी प्रकाशित की जाएगी। इसी दिन से रिटर्निंग आफिसर द्वारा नाम निर्देशन पत्र प्राप्त किया जाएगा। नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की अंतिम तारीख तीन दिसंबर निर्धारित है। नाम निर्देशन पत्र पूर्वान्ह 10.30 बजे से अपरान्ह तीन बजे तक प्राप्त किए जाएंगे।

नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा (जांच) चार दिसंबर शनिवार को पूर्वान्ह 10 बजे से किया जाएगा। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की अंतिम तारीख छह दिसंबर सोमवार अपरान्ह तीन बजे तक का समय निर्धारित है। अभ्यर्थिता वापसी के बाद छह दिसंबर को ही निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों की सूची तैयार की जाएगी और निर्वाचन प्रतीकों का आबंटन किया जाएगा। 20 दिसंबर सोमवार को प्रातः आठ बजे से अपरान्ह पांच बजे तक मतदान कराया जाएगा तथा 23 दिसंबर गुरूवार को प्रातः नौ बजे से मतगणना होगी व परिणामों की घोषणा किया जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि नगर चुनाव कराने के लिए एसडीएम कांकेर डा. कल्पना ध्रव को रिटर्निंग आफिसर तथा तहसीलदार नरहरपुर अखिलेश कुमार ध्रुव को सहायक रिटर्निंग आफिसर नियुक्त किया गया है। संयुक्त कलेक्टर गौरीशंकर नाग को उप जिला निर्वाचन अधिकारी बनाया गया है।

प्रस्तावक उसी वार्ड का होगा

उन्होंने बताय कि नगर पंचायत नरहरपुर के सभी 15 वार्डों के लिए चुनाव कराया जाएगा। पार्षद पद के लिए अभ्यर्थी नगर पंचायत के किसी भी वार्ड का मतदाता हो सकता है, लेकिन प्रस्तावक उसी वार्ड का होना चाहिए, जिस वार्ड से अभ्यर्थी चुनाव लड़ रहा है। पार्षद पद के चुनाव में अभ्यर्थी 50 हजार रुपये से अधिक व्यय नहीं कर सकता। सभी अभ्यर्थियों को इसके लिए बैंक में नया खाता खुलवाना होगा। जूलूस-रैली इत्यादि के लिए एसडीएम से अनुमति प्राप्त करनी होगी, रात्रि 10 बजे के बाद ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग प्रतिबंधित है। मतदान केंद्रों के 100 मीटर के भीतर चुनाव प्रचार-प्रसार नहीं किया जा सकता। नाम निर्देशन पत्र आनलाईन अपलोड कर रिटर्निंग आफिसर के पास उसकी हार्ड कापी प्रस्तुत करना होगा। मतदान मतपत्र पेटी में किया जाएगा। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति व अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए सक्षम अधिकारी द्वारा जारी जाति प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य है। कलेक्टर ने कहा कि मंदिर-मस्जिद, गिरिजाघर, गुरूद्वारा आदि का उपयोग भी निर्वाचन प्रसार के लिए नहीं किया जाना चाहिए।

कानून व्यवस्था का पालन करें: एसपी

पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा ने कहा कि आदर्श आचरण संहिता व कानून व्यवस्था का पालन किया जाए। किसी प्रकार की शिकायत हो तो पुलिस से संपर्क करें, कानून अपने हाथ में न लें। बैठक में राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि जागेश्वर सिन्हा, प्यारी सलाम, कौशिल्या शोरी, मनोज जैन, मनीराम सिन्हा, रोहिदास शोरी, संतोष मण्डावी, अर्जुन सिंह ठाकुर, पुरूषोत्तम पाटिल, टंकेश सिन्हा, योगेश राजपूत, बुधनू पटेल, दिनेश नागदौने, हेमलाल मरकाम, हरवंश दर्रो, शिवप्रसाद गोटा, चंद्रमोहन शर्मा, एसडीएम भानुप्रतापपुर जितेन्द्र यादव, एसडीएम कांकेर डा. कल्पना धु्‌रव, तहसीलदार भानुप्रतापपुर सुरेन्द्र कुमार उर्वशा, तहसीलदार नरहरपुर अखिलेश ध्रुव भी मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local