कांकेर। नईदुनिया प्रतिनिधि

युवाओं में बढ़ने नशे की नशे लत और नशे के लत को पूरा करने के लिए नशीली दवाइयों के बढ़ते प्रयोग को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने जिलेभर के मेडिकल स्टोर संचालकों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने मेडिकल संचालकों को बिना चिकित्सकीय पर्ची के नशीली दवाएं न देने की बात कही।

शहर में युवा वर्ग के प्रतिबंधित मादक दवाइयों के सेवन करने और युवाओं पर हो रहे इसके दुष्प्रभाव को देखते हुए पुलिस अधीक्षक भोजराम नाग द्वारा जिले के मेडिकल दुकान संचालकों की बैठक ली। बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि युवा वर्ग में नशे की लत की लत बढ़ती जा रही है। नशे के कारण युवा वर्ग अपराध की ओर अग्रसर होता है। उन्होंने कहा कि हम सभी को अपनी जिम्मेदारी समझने की जरूरत है, हमें प्रयास करना चाहिए कि आज का युवा नशे का आदी न हो। पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा सभी मेडिकल स्टोर के संचालकों को प्रतिबंधित दवाइयों के नाम और उसके संबंध में जानकारी देते हुए निर्देश दिए हैं कि किसी भी स्थिति में उक्त दवाइयों को डॉक्टर के पर्चे के बिना विक्रय ना करें। यदि ऐसी शिकायत मिलती है तो पुलिस विभाग द्वारा व ड्रग इंस्पेक्टर द्वारा कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने सभी मेडिकल संचालकों से अपेक्षित सहयोग करने और सभी दवाइयों की निर्धारित मात्रा में से अधिक मात्रा का भंडारण नहीं करने की अपील की। उन्होंने कहा कि युवा को स्वस्थ रखने और उन्हें नशे की चपेट से दूर रखने के लिए पुलिस विभाग प्रतिबद्ध है। मेडिकल स्टोर संचालकों के निर्धारित दायित्व भी हैं जिनका उन्हें पालन करना चाहिए। बैठक में जिले भर के लगभग 60 मेडिकल स्टोर के संचालक शामिल हुए बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर, उप पुलिस अधीक्षक आकाश मरकाम, थाना प्रभारी मोरध्वज देशमुख, भानुप्रतापपुर थाना प्रभारी शशिकला उइके, नरहरपुर थाना प्रभारी ईश्वर कुर्रे आदि मौजूद थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket