चारामा। तहसील मुख्यालय चारामा में आयोजित विश्व आदिवासी दिवस एवं सामाजिक समरसता सम्मेलन में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल हुए। इस अवसर पर उनके द्वारा 40 करोड़ पांच लाख रुपये के 126 विभिन्ना विकास कार्यों का भूमिपूजन व लोकार्पण किया गया। इनमें 18 करोड़ 13 लाख रुपये के 98 कार्यों का भूमिपूजन तथा 21 करोड़ 92 लाख रूपये के 28 कार्यों का लोकार्पण शामिल है।

विश्व आदिवासी दिवस एवं सामाजिक समरसता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आजादी की लड़ाई में आदिवासी समाज ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। नौ अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस मनाया जाता है, इसी दिन महात्मा गांधी ने अंग्रेजों भारत छोड़ो नारा दिया था। कांकेर जिले के अमर शहीद गेंदसिंह, इन्दरू केंवट, पातर हल्बा ने भी आजादी की लड़ाई में अपना योगदान दिया है।

भारतीय संविधान के निर्माण में भी ठाकुर रामप्रसाद पोटाई की भूमिका रही है। आज हम स्वतंत्र हैं तथा आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहे हैं। यह आजादी हमें हमारे पुरखों के त्याग और बलिदान से मिला है। देश के निर्माण में हमारे पुरखों का योगदान है, एक-एक व्यक्ति ने देश के नवनिर्माण में अपनी भूमिका निभाई है। हमें सचेत रहकर संविधान का पालन करते हुए आगे बढ़ना होगा। उन्हांने कहा कि संविधान के तहत् हमें अधिकार दिये गये हैं तथा हम सब संविधान के तहत ही संचालित हो रहे हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पेशा कानून का नियम बना दिया गया है, जिसे गजट में प्रकाशित किया जा चुका है।

इस कानून में ग्रामसभा को ताकत दी गई है, गांव के सभी व्यक्ति मिलकर ग्राम हित में फैसला लेंगे। इस कानून से किसी व्यक्ति को घबराने की जरूरत नहीं है। अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, महिला वर्ग सभी अधिकार दिये गये हैं, सब मिलकर लोगों के हित में फैसला लेंगे। कार्यक्रम को छत्तीसगढ़ विधानसभा के उपाध्यक्ष मनोज मण्डावी, संसदीय सचिव एवं कांकेर विधानसभा के विधायक शिशुपाल शोरी, गौ-सेवा आयोग के सदस्य नरेन्द्र यादव, सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष जीवन ठाकुर ने भी संबोधित किया।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ अनुसूचित जनजाति आयोग के सदस्य नितिन पोटाई, छत्तीसगढ़ पर्यटन मण्डल के सदस्य नरेश ठाकुर, जिला पंचायत अध्यक्ष हेमंत धु्‌रव, बस्तर विकास प्राधिकरण के सदस्य बीरेश ठाकुर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष हेमनारायण गजबल्ला, जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष सुभद्रा सलाम, कमिश्नर श्याम धावड़े, पुलिस महानिरीक्षक सुन्दरराज पी., कलेक्टर कांकेर डा. प्रियंका शुक्ला, पुलिस अधीक्षक शलभ कुमार सिन्हा सहित आदिवासी समाज प्रमुख, प्रशासन के अधिकारी एवं नागरिकगण बड़ी संख्या में मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने किया करोड़ों के विकास कार्यों का लोकार्पण व शिलान्यास

शहीद वीर नारायण सिंह मिनी स्टेडियम चारामा में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 40 करोड़ 05 लाख रूपये के 126 विभिन्ना विकास कार्यों का भूमिपूजन व लोकार्पण किया, इनमें 18 करोड़ 13 लाख रूपये के 98 कार्यों का भूमिपूजन तथा 21 करोड़ 92 लाख रूपये के 28 कार्यों का लोकार्पण शामिल है। उनके द्वारा नगर पंचायत चारामा के विभिन्ना वार्डों में दो करोड़ 99 लाख तीन हजार रुपये की लागत के अधोसंरचना मद से सीसी रोड, आरसीसी नाली, सामुदायिक भवन, बोर खनन, जेनेरिक दवाई दुकान का निर्माण, बीटी रोड निर्माण कार्य तथा 30 लाख रुपये की लागत के राज्य प्रवर्तित योजनांतर्गत पौनी पसारी चबूतरा सह शेड निर्माण कार्य का भूमिपूजन किया गया। इसी प्रकार नगर पंचायत भानुप्रतापपुर के विभिन्ना वार्डों में 02 करोड़ 81 लाख 83 हजार रुपये की लागत के अधोसंरचना मद से सीसी रोड, आरसीसी नाली, पेवर ब्लाक, हाई मास्क लाईट स्थापना कार्य, विकासखण्ड दुर्गूकोंदल के ग्राम आमाकड़ा में एक करोड़ 62 लाख 76 हजार रुपये लागत के 50 सीटर आदिवासी कन्या आश्रम भवन व अन्य निर्माण कार्य आदि शामिल है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close