कांकेर। बस्तर संभाग कमिश्नर श्याम धावड़े ने शुक्रवार को कांकेर जिले के चारामा तहसील का आकस्मिक निरीक्षण किया। कमिश्नर द्वारा कार्यालय के कक्ष में रखे सभी दस्तावेजों का निरीक्षण किया तथा राजस्व प्रकरणों के निराकरण के संबंध में जानकारी ली। कानूनगो शाखा का निरीक्षण करते हुए उन्होंने कहा कि ग्रामों में स्थित देवगुड़ी, घोटुल सहित देवालयों के जमीन को राजस्व अभिलेख में दर्ज किया जाए और उसकी जानकारी संबंधित गांव के ग्रामीणों सहित बैगा को भी दी जाए।

इस अवसर पर उप कोषालय अधिकारी ध्वजा धु्रव अनुपस्थित पाई गई। इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कमिश्नर धावड़े ने उप कोषालय अधिकारी को नोटिस जारी करने तथा उनका एक वेतन वृद्धि असंचायी प्रभाव से रोकने के लिए डिप्टी कमिश्नर माधुरी सोम को निर्देशित किया। तहसील कार्यालय के निरीक्षण के दौरान कमिश्नर ने रिकार्ड रूम का भी निरीक्षण किया तथा उसे एक माह के भीतर व्यवस्थित करने के लिए प्रभारी लिपिक को निर्देश दिये। नायब नाजीर, प्रतिलिपकार कक्ष, आवक-जावक शाखा, रीडर कक्ष इत्यादि का भी उन्होंने अवलोकन किया तथा राजस्व प्रकरणों के निराकरण और कार्यों के निष्पादन की जानकारी ली।

अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग के लोगों को स्थाई जाति प्रमाण-पत्र जारी करने संबंधी प्रक्रिया एवं दस्तावेजों की जानकारी लेते हुए उन्होंने कहा कि स्थाई जाति प्रमाण पत्र के लिए मिशल रिकार्ड नहीं होने की स्थिति में सामाजिक पारिस्थिकि प्रमाण पत्र के आधार पर जाति प्रमाण पत्र जारी किया जाए।

एसटी, एससी वर्ग के किसी भी व्यक्ति को जमीन के दस्तावेजों के लिए अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाये और न ही उन्हें संवैधानिक अधिकारों से वंचित किया जाये। तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार को निर्देशित करते हुए कमिश्नर धावड़े ने कहा कि विशेष पिछड़ी जनजातियों के जमीन का मिशल रिकार्ड मिलना बहुत मुश्किल है। इस अवसर पर तहसीलदार जीआर नायक और नायब तहसीलदार चंद्रकुमार सिन्हा भी मौजूद थे।

नक्सल पीड़ित व्यक्तियों को मुआवजा राशि स्वीकृत

नक्सली पीड़ित व्यक्तियों की सुरक्षा एवं पुनर्वास के लिए कलेक्टर चंदन कुमार द्वारा छह लाख रुपये की क्षतिपूर्ति मुआवजा राशि स्वीकृत किया गया है। मेटाबोदेली माईंस थाना सिकसोड़ के अंतर्गत घटना के तहत भानुप्रतापपुर वार्ड क्र. तीन निवासी सुखविंद कौर के एक वाहन ट्रक का क्षति होने पर उन्हे तीन लाख रुपये क्षतिपूर्ति राशि स्वीकृत किया गया है। इसी प्रकार भानुप्रतापपुर के ही निवासी गुरतेज सिंह धालीवाल का वाहन का क्षति होने पर तीन लाख रुपये क्षतिपूर्ति मुआवजा राशि स्वीकृत किया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close