कांकेर। मौसम का मिजाज बुधवार शाम को अचानक ही बदल आया। दोपहर बाद आसमान में काले बादल घिर आए। शाम तेज हवाएं चलती रही और हल्की बूंदाबादी भी हुई। आसमान में बादल छाए रहने और तेज हवा चलने के कारण तापमान में कमी आई। जिससे लोगों को गर्मी और उसम से राहत मिली।

मई के महीने में गर्मी अपने चरम पर है। दिन के समय सूर्य की तेज किरणे आंग बरसा रही हैं। दोपहर के समय झुलसा देने वाली धूप के साथ उमस व गर्मी से लोगों का बुरा हाल है। लंबे समय तक धूप की तपीश के बाद मौसम के बुधवार को मौसम ने करवट ली। सुबह मौसम साफ था और दोपहर में तेज धूप और गर्मी से लोगों का बुरा हाल था। दोपहर बाद मौसम में बदलाव आया और आसमान में काले बादल छा गए, जिसके बाद हल्की बूंदाबांदी भी हुई। जिसके बाद आसमान बादलों से ढंका रहा और शाम को तेज हवा चलने लगी। आसमान में बादल छाए रहने और तेज ठंडी हवाओं के चलने से लोगों को गर्मी और उमस से राहत मिली। बीते दिनों की तुलना में बुधवार को दिन के अधिकतम तापमान में पांच डिग्री तक की कमी आई और दिन का अधिकतम तापमान 35 डिग्री रहा।

बारिश की संभावना

मौसम में हुए बदलाव के चलते आने वाले दिनों में जिले के कई हिस्सों में बारिश की संभावना बनी हुई है। मौसम वैज्ञानिक हेमंत भुआर्य ने बताया कि अगले पांच दिनों में जिले कुछ स्थानों पर हल्की बारिश के संभावना है। आसमान में आंशिक रूप से बादल छा रहेंगे और दिन का अधिकतम तापमान 37 से 38 डिग्री तक रहने का अनुमान है।

बारिश से आम की फसल को नुकसान

क्षेत्र में मौसम ने जो करवट ली है, जो किसानों के लिए मुसीबत बन गई है। खराब मौसम और बारिश के कारण आम व सब्जियों की फसल को नुकसान पहुंच सकता है। तेज हवाओं के चलने से आम के फल गिर जाएंगे। साथ ही जिन किसानों द्वारा अभी धान की कटाई की जा रही है, उन्हें भी बारिश होने की स्थिति में नुकसान उठाना पड़ सकता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close