कांकेर। जगन्नाथ यात्रा के अवसर पर मंदिर में भगवान के दर्शन के लिए भक्तों का तांता लगा रहा और रथयात्रा के दौरान तो भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा। बड़ी संख्या भक्तगण रथ को चारो ओर से घेर हुए रथ को लेकर बढ़ते नजर आए। इस दौरान भक्तों का उत्साह देखते ही

बन रहा था। शुक्रवार को जगन्नाथ यात्रा का पर्व क्षेत्र में भक्ति और उत्साह के साथ मनाया गया। राजापारा स्थित भगवान जगन्नाथ के मंदिर में सुबह से ही भक्त दर्शन के लिए पहुंचने लगे थे। दोपहर तक मंदिर में भक्तों की लंबी कतार दिखाई देने लगी।

दोपहर बाद मंदिर आगमन के बाद उनके द्वारा छेरा पहरा प्रथा के अनुसार की गई। जिसमें भगवान जगन्नाथ, बलभद्र व सुभद्रा को रथ तक लाने के रास्ते में पानी डालकर झाडू लगाया और रथ की पूजा की गई। रथ की पूजा के बाद भक्तों द्वारा भगवान जगन्नाथ, बलभद्र व सुभद्रा को मंदिर से रथ तक लाया गया। भगवान को रथ की सात परिक्रमा कराई गई। परिक्रमा पश्चात भगवान जगन्नाथ, बलभद्र व सुभद्रा के साथ रथ में विराजमान हुए। रथ में भगवान के विराजमान होने के बाद आरती की गई और भक्तों को गजा मूंग प्रसाद का वितरण किया गया।

प्रसाद वितरण के साथ ही रथ खींचने का सिलसिला शुरू हो गया। रथ खींचने को लेकर भक्तों का उत्साह देखते ही बन रहा था। सभी भक्त बारी बारी रथ खींचने का इंतजार करते नजर आए। इस दौरान भक्तगण भगवान जगन्नाथ के जयकारे भी करते रहे। रथयात्रा राजापारा से शुरू होकर गांधी चौक पहुंची, और रथ यही से वापस राजापारा में रथ यात्रा समाप्त हो गई। भगवान जगन्नाथ भगवान को राजापारा स्थित कीर्तन हाल भवन में रखा गया है। वहीं नगर के टिकरापारा में स्थित जनकपुरी भवन जर्जर होने के चलते भगवान को वहां नहीं लगाया। जिसके चलते भक्तों में इसकी

चर्चा होती रही।

भंडारे का आयोजन

जगन्नाथ यात्रा के अवसर पर राजापारा स्थित जगन्नाथ मंदिर में भक्तों के लिए भंडारे का आयोजन किया गया। रथयात्रा के पूर्व दोपहर दो बजे भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें भक्तों को प्रसाद के रूप में दाल, चावल, सब्जी व कढ़ी दी गई। बड़ी संख्या में भक्तों ने भंडारे में पहुंचकर प्रसाद ग्रहण किया।

गढ़िया पहाड़ में दिखी भीड़

रथयात्रा के अवसर पर गढ़िया पहाड़ में लोगों की भीड़ दिखाई दी। भगवान जगन्नााथ के दर्शन के लिए मंदिर पहुंचे भक्तों ने गढ़िया पहाड़ चढ़कर भी भगवान भोलेनाथ, माता शीतला, कांकेश्वरी देवी के दर्शन किए। जिसके चलते दिनभर गढ़िया पहाड़ में भक्तों का तांता लगा रहा।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close