भानुप्रतापपुर। वन विभाग में भृत्य के पद पर कार्यरत ह्रदय राम यादव की शुक्रवार को सुबह नौ बजे बिजली करंट लगने से मृत्यु हो गई। मिली जानकारी के अनुसार हृदय राम यादव, शंकर नगर स्थित अपने घर के बगल में नाली की सफाई कर रहा था। वहीं पास में स्थित बाथरूम में एक लोहे की राड निकली हुई थी। जिसमें बिजली की तार बंधा हुआ था।

संभवत बिजली के तार का प्लास्टिक कट जाने से लोहे की राड में करंट प्रवाहित हो रहा था। इस बीच हृदय राम नाली साफ करते हुए बैलेंस बिगड़ा और उसने बाथरूम से निकली हुई लोहे की राड को पकड़ लिया। जिससे उसे बिजली का जोरदार करंट लगने से चिपक गया। किसी तरह से हृदयराम को छुड़ाकर तुरंत अस्पताल लाया गया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 60 वर्षीय हृदय राम डीएफओ बंगला में काम करता था, और ग्राम चबेला का मूल निवासी था, शव को पोस्टमार्टम के उपरांत उसके गृहग्राम रवाना कर दिया गया। जहां शाम को अंतिम संस्कार किया गया।

अतिक्रमण हटाने पार्षदों ने तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

नगर के महानदी के किनारे हुए अतिक्रमण को हटाने को लेकर पार्षदों सहित नगरवासियों ने तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। पार्षद शिव सोनकर, वेदबती नायक, एल्डरमेन विनोद साहू सहित नगरवासी चोबाराम, नंद कुमार देवांगन, शिवकुमार यादव, दयाराम यादव, शिवकुमार यादव, श्रीराम साहू, पवन यादव सहित अन्य ने तहसीलदार को बताया कि नगर की सीमा से गुजरी महानदी के पास स्थित शासकीय जमीन पर कुछ लोगों के द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया है। जिससे वहां से गुजरने वाले कृषकों एवं पशु पालकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। लगभग 10 एकड़ से अधिक की भूमि पर अवैध कब्जा उक्त स्थान पर हुआ है। जो कि पुर्णतः शासकीय है। नगर एवं आम जन के हित को देखते हुए उक्त भूूमि को कब्जा मुक्त कराया जाए, ताकि नगर पंचायत उक्त भूमि पर विकास की योजना तैयार कर सके और आम जन को भी आवागमन मे आसानी हो।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close