भानुप्रतापपुर, कांकेर Ganesh Festival 2020 । अनुविभागीय दंडाधिकारी भानुप्रतापपुर प्रेमलता मंडावी, एसडीओपी अमोलक सिंह ढिल्लो व तहसीलदार आनंद राम नेताम की उपस्थिति में जनपद सभागर में शांति समिति की बैठक हुई। इसमें तहसीलदार आनंद राम नेताम ने कहा कि जिले में कोरोना पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। इसे रोकने व नियंत्रण में रखने के लिए गणेश उत्सव के संबंध में जिला प्रसासन ने गाइड लाइन जारी किया है। इसके अनुसार गणेश की मूर्ति चार फीट से अधिक न हो, मूर्ति स्थापना वाले पंडाल का आकार 15-15 फीट से अधिक न हो, पंडाल के सामने कम से कम 5000 वर्ग फीट की खुली जगह हो।

पंडाल एवं सामने 5000 वर्ग फीट की खुली जगह में कोई भी सड़क अथवा गली का हिस्सा प्रभावित न हो। पंडाल के सामने दर्शकों के बैठने के लिए पृथक से पंडाल न हो, दर्शकों व आयोजकों के बैठने के लिए कुर्सी न लगाई जाए। किसी भी एक समय में मंडप व सामने 20 व्यक्ति से अधिक न हो, मूर्ति स्थापित करने वाले व्यक्ति अथवा समिति को एक रजिस्ट रखना होगा जिसमें दर्शन के लिए आने वाले सभी व्यक्तियों का नाम, पता, मोबाइल नंबर दर्ज किया जाएगा ताकि उनमें से कोई व्यक्ति कोरोना संक्रमित होने पर कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग किया जा सके। वहीं मूर्ति स्थापित करने के लिए नगर पालिका या नगर पंचायत के संबंधित जोन कार्यालय से अनुमति लेना अनिवार्य किया गया है।

तहसीलदार ने बताया कि मूर्ति स्थापित करने वाले व्यक्ति अथवा समिति को चार सीसीटीवी कैमरा लगवाना होगा ताकि कोई भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित होने पर पता चल सके। मूर्ति दर्शन व पूजा में शामिल होने वाला कोई भी व्यक्ति बगैर मास्क के नहीं जाएगा। बिना मास्कर पाए जाने पर संबंधित समिति के विरूद्ध वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

मूर्ति स्थापित करने वाले व्यक्ति अथवा समिति द्वारा सैनिटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग ऑक्सीमीटर, हैंड वॉश की व्यवस्था की जाएगी थर्मल स्क्रीनिंग में बुखार पाए जाने अथवा कोरोना से संबंधित कोई भी सामान्य या विशेष लक्षण पाए जाने पर पंडाल में प्रवेश नहीं देने की जिम्मेदारी समिति की होगी। व्यक्ति अथवा समिति द्वारा शारीरिक दूरी रखने बनाए रखेन के लिए बांस बल्ली से बैरिकेटिंग किया जाएगा। यदि कोई व्यक्ति मूर्ति स्थापना स्थल पर जाने के कारण संक्रमित हो जाता है तो इलाज का संपूर्ण खर्च मूर्ति स्थापना करने वाला व्यक्ति अथवा समिति द्वारा वहन किया जाएगा।

बैठक में थाना प्रभारी शशि कला उइके ग्राम पटेल बिरेन्द्र सिंह ठाकुर पंकज वाधवानी पार्षद नरेंद्र कुलदीप, जया, विजय धामेचा, पार्षद चंद्र कुमार कटझरे, पार्षद रुपेंद्र मरकाम, पार्षद भगवान सिंह कुंजाम, राममिलन साहू, पार्षद मनीष साहू, पार्षद हेमलता नाग, सम्बलपुर की सरपंच अनीता रावटे, उपसरपंच गौरव चोपड़ा, शिवसेना प्रदेश महासचिव चंद्र मौली मिश्रा, पूर्व मंडल अध्यक्ष नरोत्तम सिंह चौहान, नमन जैन, राजा पाण्डे, सीएमओ ललित साहू, नरेंद्र ठाकुर, सहित गणेश समिति व गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

कंटेनमेंट जोन में मूर्ति स्थापना पर प्रतिबंध

कंटेनमेंट जोन में मूर्ति स्थापना की अनुमति नहीं होगी। यदि पूजा की अवधि के दौरान भी उपरोक्त क्षेत्र कंटेनमेंट घोषित हो जाता है, तो तत्काल पूजा समाप्त करनी होगी। मूर्ति विसर्जन के समय अथवा विसर्जन के पश्चात किसी भी प्रकार के भोज भंडारा, जगराता अथवा सांस्कृतिक कार्यक्रम, वाद्य यंत्र, ध्वनि विस्तारक यंत्र, डीजे, प्रसाद चरणामृत या कोई भी खाद्य एवं पेय पदार्थ वितरण की अनुमति नहीं होगी।

विसर्जन के लिए एक से अधिक वाहन की अनुमति नहीं होगी। पिकअप, टाटा एस, छोटा हाथी से बड़े वाहनों का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा। विसर्जन वाहन में अतिरिक्त साज-सज्जा, झांकी की अनुमति नहीं होगी। विसर्जन के लिए चार से अधिक व्यक्ति नहीं जा सकेंगे एवं चारों मूर्ति के वाहन में ही बैठेंगे पृथक से वाहन ले जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। वहीं वाहन पंडाल से लेकर विसर्जन स्थल तक रास्ते में कहीं भी रोकने की अनुमति नहीं होगी।

विसर्जन के लिए नगर पालिका, नगर पंचायत द्वारा निर्धारित रूट मार्ग व तिथि व समय का पालन करना होगा। शहर के व्यस्त मार्गों से मूर्ति विसर्जन वाहन को ले जाने की अनुमति नहीं होगी बल्कि जिला प्रशासन द्वारा निर्देशित मागोर् से ही अनुमति होगी। विसर्जन के मार्ग में कहीं भी स्वागत, भंडारा, प्रसाद वितरण, पंडाल लगाने की अनुमति नहीं होगी।

सूर्यास्त के पश्चात व सूर्योदय के पहले मूर्ति विसर्जन के किसी भी प्रक्रिया की अनुमति नहीं होगी। उपरोक्त शर्तों के साथ घरों में मूर्ति स्थापित करने की अनुमति होगी। यदि घर से बाहर मूर्ति स्थापित किया जाता है, तो कम से कम सात दिन पूर्व नगर पालिका या नगर पंचायत के संबंधित जोन कार्यालय में निर्धारित शपथ पत्र देना होगा व अनुमति मिलने पर ही मूर्ति स्थापित करनी होगी।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan