25 कांकेर 11

0- घरों से बाहर निकलने से बच रहे लोग, सड़कों पर दिखने लगा गर्मी का असर

कांकेर। नईदुनिया प्रतिनिधि

मई का महीना समाप्त होने में अब कुछ ही दिन रह गए हैं और आसमान से सूरज जमकर आग बरसा रहा है। जिससे तापमान में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। दोपहर के समय सबसे अधिक गर्मी होती है और रोजना पारा 40 डिग्री को पार कर जा रहा है। जबकि एक सप्ताह पहले तापमान 36 डिग्री के आसपाास था। भीषण गर्मी के चलते सुबह से सूर्य की किरणें आग बरसाने लगती हैं। भीषण गर्मी ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है। जिसके चलते लोग धूप में घरों से बाहर निकलने से बच रहे हैं। सोमवार को शहर का तापमान 42 डिग्री पहुंच गया। आने वाले दिनों में गर्मी और कितना कहर बरपाएगी इसे लेकर अभी से लोगों की चिंता बढ़ गई है।

कोरोना संक्रमण के बीच अब गर्मी ने भी लोगों की परेशानी बढ़ा दी है। बढ़ते तापमान के चलते गर्म हवा के थपेड़े तेज होते जा रहे हैं। सुबह से ही गर्मी का एहसास होने लगता है और सूर्य देवता के निकलते ही कहर बरपा रहे हैं। सूर्य की किरणे इतनी तेज हो गई हैं कि शरीर को पकड़े से ढंके बिना लोग घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं। गर्मी से राहत पाने सुबह से ही कूलर-पंखों व एसी चालू हो जाते हैं।

ग्रामीण अंचल में भी लोगों द्वारा गर्मी से बचने कूलर-पंखे का उपयोग ज्यादा करने लगे हैं। गर्मी इतनी बढ़ गई है कि कूलर पंखों का असर भी कम होने लगा है। बहुत जरूरी काम होने पर ही लोग अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं। खासकर दोपहर के समय लू के थपेड़ों से बचना मुश्किल होता जा रहा है। जिसके चलते सोमवार को शहर के सड़कों में सन्नाटा पसरा नजर आया। रविवार को भी शहर का अधिकतम तापमान 42 डिग्री था। गर्मी चरम पर पहुंच गई है जानकारों की माने तो आने वाले दिनों में तापमान में और भी बढ़ोत्तरी देखने को मिलेगी।

सावधानी बरतने की सलाह

बढ़ते तापमान व तेज धूप का असर लोगों के स्वास्थ पर भी पड़ रहा है। अक्सर देखा गया है कि गर्मी के दिनों में अस्पतालों में मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो जाती है। जिसमें अधिकांश गर्मी के कारण लू, उल्टी-दस्त व अन्य मौसमी बीमारियों से पीड़ित होते हैं। इस संबंध में सिविल सर्जन डॉ आरसी ठाकुर से पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि गर्मी में लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए। बासी भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए, अधिक मात्रा में साफ पानी पीना चाहिए। धूप में घर से बाहर निकलने से बचना चाहिए। घर से बाहर निकलने पर शरीर को अच्छी तरह ढंककर ही बारह निकलना चाहिए।

गर्मी में बिजली की आंख मिचौली

दूसरी ओर बिजली की आंख मिचौली से लोग परेशान हैं। विद्युत विभाग द्वारा हल्की सी हवा एवं बारिश प्रारंभ होने से घंटों बिजली बंद कर दी जाती है। जिससे उपभोक्ताओं में आक्रोश व्याप्त है। पिछले एक माह की बात करें तो लगभग रोजना ही रात के समय विद्युत सप्लाई बाधित हो जाती है। विद्युत सप्लाई बंद होने से गर्मी के कारण लोगों का बुरा हाल हो जाता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना