कांकेर । शहर के नए बस स्टैंड में स्थायी रूप से बसों को खड़ा रखने पर बस संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बस संचालकों को बस स्टैंड में स्थायी रूप से वाहन न खड़ा करने और खड़ी बसों को वहां से हटाने के निर्देश दिए हैं। जिसके बाद भी बस स्टैंड में स्थायी रूप से बस खड़ी पाए जाने पर अधिकारी कार्रवाई की बात कह रहे हैं। हालांकि पूर्व में नगर पालिका ने बस संचालकों को इस संबंध में नोटिस जारी किया था, लेकिन इसके बाद भी बस स्टैंड का उपयोग डिपो की तरह किया जा रहा था।

लंबे समय से शिकायत मिल रही थी कि कुछ बस संचालकों के द्वारा नए बस स्टैंड परिसर में स्थाई रूप से बसों को खड़ा रखा जाता है। बस संचालकों द्वारा अपनी कंपनी के बसों के बस डिपो नहीं बनाया गया है और बस स्टैंड का उपयोग ही उनके द्वारा डिपो के रूप में किया जाता रहा है। बस स्टैंड में खड़ी बसों में कई बसें ऐसे भी होती हैं, जो तकनीकी खराबी के चलते लंबे समय तक यहां खड़ी रहती हैं। बड़ी संख्या में बस स्टैंड में बसों की पार्किंग से जगह की कमी भी होने लगती है।

बस स्टैंड में रायपुर व जगदलपुर सहित जिले अन्य हिस्सों से आने वाले बसों के संचालन में भी जगह की कमी के कारण दिक्कत होती है। जिसे देखते हुए नगर पालिका ने मार्च महीने में बस संचालकों को नए बस स्टैंड परिसर से बसों को हटाने के संबंध में नोटिस जारी किया गया था और बस स्टैंड परिसर में स्थाई रूप से बसों को खड़ा किए जाने के कारण सफाई में परेशानी और चलित बसों के आवाजाही में बाधा उत्पन्न होने का हवाला दिया गया था।

जिसके बाद कुछ समय तक यहां से बसें हटा ली गई थी। लेकिन फिर से बस स्टैंड में बसों का उपयोग बस डिपो की तरह होता दिखाई दे रहा था। जिसे देखते हुए गुरूवार शाम नगरपालिका व यातायात पुलिस की टीम नए बस स्टैंड पहुंची और बस स्टैंड में स्थायी रूप से खड़ी की गई बसों को हटाए जाने का निर्देश बस संचालकों को दिया गया। यातायात प्रभारी रोशन कौशिक व नगरपालिका सीएमओ दिनेश कुमार यादव ने बताया कि बस संचालकों को बस स्टैंड में स्थाई रूप से बसों को खड़ा न करने, संचालित बसों को निर्धारित स्थान पर खड़ा किए जाने के संबंध में निर्देश दिया गया है। बस संचालकों द्वारा बसों को न हटाए जाने पर विधिवत कार्रवाई की जाएगी।

क्या कहते हैं बस संचालक

बस संचालक बस स्टैंड से बाहर बसों को खड़ा करने पर सामान चोरी होने का हवाला दे रहे हैं। बस संचालक गुलताज अली ने बताया कि बस संचालक की मांग है कि रात के समय उन्हें बसों को स्टैंड में खड़ा करने की अनुमति दी जाए। दिन के समय बसों की आवाजाही अधिक होती है, उस दौरान बसों को बस स्टैंड में नहीं रखा जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local