चारामा। क्षेत्र में पिछले 60 घंटों से हो रही झमाझम बारिश से पूरा क्षेत्र जलमग्न हो गया है। ग्राम आंवरी के छह लोगों के घरों के धराशाही होने की खबर है। नदी नाले उफान पर आ गए हैं। ग्राम पंचायतों की निचली बस्तियों में पानी भरने से मिट्टी के बने कच्चे मकान व इंदिरा आवास ढहगए हैं। पानी की निकासी नहीं होने से आसपास के सभी घरों में दरारें आ गई हैं और पानी रिसने लगा है। पानी रिसने से लोग अब घरों में रहने से भी भयभीत हो रहे हैं।

ग्राम पंचायत आंवरी बस्ती शीतला मंदिर पारा में भारी बारिश के चलते गड्ढों, मैदान और खेतों में लबालब पानी भर गया है। वहीं पानी की सही निकासी व्यवस्था नहीं होने से पानी धीरे धीरे जाम होते होते घरों की दीवारों पर सीपेज कर धराशायी कर दिया है। ग्राम आंवरी के जगदेव पिता रामनाथ, सोमनाथ पिता बलीराम, दाउलाल पिता रामप्रसाद, आसकरण पिता भागीराम, भागवत पिता रामदयाल, अजय पिता जंगलुराम, नरेश पिता पुनित, बिरजुराम पिता रत्तीराम, ीमती अश्वनी पति भागाराम के इंदिरा आवास व कच्चे मकान लगातार बारिश में धराशायी हो गया। स्थिति यह है कि पीड़ित परिवारों को अस्थाई व्यवस्था कर रात और दिन बाहर गुजारना पड़ रहा है। बढ़ते पानी के जमाव को देखकर ग्रामीणों ने स्वयं मदान कर नाली बनाते हुये भरे हुए पानी को निकालने का कार्य कर रहे हैं, ताकि पानी भराव से और घरों को नुकसान न पहुंचे। इसके लिए ग्रामीणों ने आंवरी चौक से रानीमाई जाने वाले शीतला मंदिर मार्ग को खोदकर उसमें नाली बनाया और पानी निकाला।

खेतों में घुसी रेत, फसल चौपट

बारिश में जिन ग्रामीणों का घर क्षतिग्रस्त हुआ है सभी गरीब वर्ग के हैं। इनके पास घर की मरम्मत करने व उसे बनाने के लिए पर्याप्त साधन नहीं है। ग्राम के पास से गुजरी नदी में बाढ़ आने से नदी की पूरी रेत कई खेतो में घुस गई है। इससे फसलों को भी काफी नुकसान हुआ है।

सीसी सड़क नहीं होने से दिक्कत

उपसरपंच दसरूराम, महेश साहू, चैतूराम डहरिया, सियाराम बंजारे, सुरेश कुमार सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि मनसा घर से रामकुमार के घर तक सीसी सड़क के लिए कई बार शासन-प्रशासन से ज्ञापन के माध्यम से मांग की गई है, लेकिन अब तक इस मार्ग का निर्माण नहीं होने से ग्रामीणों को दिक्कतें होती हैं। यह मार्ग चारामा मुख्यालय से जंगल होते हुए दल्लीराजहरा, बालोद और राजनांदगांव तक जाता है। पूर्व विधायक के गृहग्राम और रानी माई मंदिर जाने के लिए यह मार्ग है। ग्रामीणों ने बारिश से क्षतिग्रस्त सभी घरों के लिए मुआवजे की मांग के साथ शीतला मंदिर मार्ग के लिए सीसी सड़क व नाली निर्माण की भी मांग की है।

Posted By: