कांकेर। बिलासपुर नसबंदी कांड में डॉ. गुप्ता की गिरफ्तारी के विरोध में जिला चिकित्सा अधिकारी संघ की 20 नवंबर को काम बंद कर हड़ताल पर रहने की चेतावनी के मद्देनजर प्रशासन ने आरएमओ और एएमओ की ड्यूटी जिला चिकित्सालय, सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में लगाई है। अस्पतालों में चिकित्सा व्यवस्था सुचारू रखने यह तैयारी की गई है। जिला अस्पताल कांकेर में सात आरएमए (ग्रामीण चिकित्सा सहायक) तैनात रहेंगे।

जिला चिकित्सालय में कुल 18 चिकित्सक पदस्थ हैं। इनमें से 16 चिकित्सक 20 नवंबर को अवकाश पर रहेंगे। दो संविदा चिकित्सक ही ड्यूटी पर रहेंगे। इसके चलते प्रशासन ने यह तैयारी की है। कलेक्टर श्रीमती अलरमेलमंगई डी के निर्देश पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. तुर्रे ने आरएमओ और एएमओ की ड्यूटी जिला चिकित्सालय, सामुदायिक और प्राथमिक स्वाथ्य केन्द्र में लगाई है। उन्हें निर्देशित किया गया है कि वे 20 नवंबर का प्रातः 8 बजे अपनी उपस्थिति ड्यूटी लगाये गए स्थान में दें। जिन आरएमओ और एएमओ की ड्यूटी लगाई गई है, उनके नाम इस प्रकार हैं- दुधावा के फणिन्द्र कुमार साहू को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सरोना में, घोटियावाही के सतीश कुमार सेन को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र नरहरपुर में, भनसुली के नेत्रपाल साहू को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अमोड़ा में ड्यूटी लगाई गई है। सारवण्डी के राजेश कुमार साहू, शाहवाड़ा के मनीष साहू, लखनपुरी की केमिका सिन्हा, सारवण्डी के जितेन्द्र देवदास, लखनपुरी के अभिषेक पाटक, उडकुडा की ममता साहू, चिचगांव के धनंजय साहू को ड्यूटी कोमलदेव जिला चिकित्सालय कांकेर में लगाई गई है।

इसी प्रकार कोलियारी के अभिनव पाठक को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धनेलीकन्हार, लखनपुरी की निता कछवाहा की प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लखनपुरी, मर्दापोटी के राकेश सोनवानी को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धनेलीन्हार, तेलगरा की किरण देवदास और जेपरा के श्रवण तिवारी को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द चारामा, हाटकोंदर के किशोर डडसेना और आमाकड़ा के खेमनारायण साहू को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र दुर्गूकोन्दल, लोहत्तर के राकेश बनपाल को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लोहत्तर, बदरंगी के अजय कुमार कश्यप को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द कोयलीबेड़ा, कर्रेगांव के प्रकाश निर्मम और सरण्डी के पारसनाथ सेन को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अंतागढ़, सेलेगांव के गजेन्द्र कुमार सिन्हा, भैंसाकन्हार की शांतिभूषण पांडे, भानबेड़ा की प्रियंका चौहान को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र भानुप्रतापपुर, बांदे के कार्तिक देवनाथ और डॉ. मनोज सिन्हा को सिविल अस्पताल पखांजूर में ड्यूटी लगाई गई है।

जारी रहेगी आपात चिकित्सा : डॉ. तुर्रे

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. तुर्रे ने कहा है कि चिकित्सक आपात चिकित्सा आवश्यकता वाले मरीजों को अपनी सेवाएं देंगे। ऐसे मरीजों को इलाज के लिए कोई असुविधा नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आपात चिकित्सा आवश्यकता की सूचना मिलते ही चिकित्सक अपनी सेवाएं देंगे।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local