कांकेर, नईदुनिया प्रतिनिधि। स्कूल शिक्षा को बेहतर और आसान बनाने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए शिक्षा विभाग ने अपनी किताबों में इस बार अभिनव प्रयोग किया है। स्कूली किताबों में क्यूआर कोड छापा गया है। इस कोड को स्कैन कर शिक्षकों को ऑनलाइन स्टडी मटेरियल के रूप में ऑडियो-वीडियो लिंक मिलेगा।

एनसीईआरटी ने अपनी किताबों में सबसे पहले क्यूआर कोड का प्रयोग किया था। इस बार एससीईआरटी ने भी यही प्रयोग किया है। इसमें दीक्षा एप की मदद से पढ़ाई आसान होगी। कोई भी शिक्षक जैसे ही दीक्षा एप के जरिये इस कोड को स्कैन करेगा, वो दीक्षा पोर्टल पर पहुंच जाएगा।

इसके साथ ही उन्हें पोर्टल पर मौजूद तमाम स्टडी मटेरियल का लिंक मिल जाएगा। इस लिंक में ऑडियो और वीडियो अटैच हैं। इनकी मदद से न केवल शिक्षक खुद को अपडेट कर सकेंगे, बल्कि स्मार्ट फोन की मदद से कक्षा में स्मार्ट एजुकेशन भी दे सकेंगे। छात्रों को ध्यान में रखते हुए ही दीक्षा पोर्टल पर स्टडी मटेरियल अपलोड किया गया है। इसमें विभिन्न विषयों से जुड़े वीडियो और ऑडियो हैं।

कई में तो कॉर्टून कैरेक्टर के जरिये पूरे पाठ को रोचक अंदाज में समझाया गया है। वीडियो और फोटो को एक बार डाउनलोड करने के बाद इनका कभी भी ऑफलाइन कक्षा में प्रयोग किया जा सकेगा। इसके एप माध्यम से बच्चे स्कूलों के साथ-साथ अपने घर में पढ़ाई कर सकते हैं।

प्ले स्टोर से डाउन लोड कर सकते हैं एप

दीक्षा एप को किसी भी एंड्राइड मोबाइल पर डाउनलोड किया जा सकता है। इसके लिए प्ले स्टोर में दीक्षा एप सर्च कर उसे डाउनलोड करने के बाद शुरू किया जा सकता है। इस दौरान दीक्षा एप शुरू करने पहले यूजर के बारे में पूछता कि वह एप का उपयोग शिक्षक के रूप में करना चाहता है या विद्यार्थी के। इस प्रकार शिक्षक और विद्यार्थी दोनों ही इस एप का प्रयोग कर सकते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket