कांकेर। नईदुनिया न्यूज

ग्राम घोटिया में पोषण जागरूकता अभियान कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें कुपोषण को दूर करते हुए प्रतिदिन सही आहार सुपोषित गभर्वती, किशोरी व महिला और घर के प्रत्येक सदस्य को सुपोषित भोजन से स्वास्थ्य रहने की जानकारी दी गई। इस एक दिवसीय कार्यक्रम के माध्यम से ग्राम घोटिया में विभिन्न सांस्कृतिक चर्चा व मौखिक संदेश द्वारा ग्रामीणों को जानकारी दी गई।

कार्यक्रम में विशेष वक्ताओं द्वारा भारत सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं पर व्यक्तव्य दिए गए। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सरपंच नरसू मंडावी, उपसरपंच सगनी हिचामी और पंच उपस्थित हुए। कार्यक्रम में घोटिया के प्राथमिक वमाध्यमिक स्कूल के बच्चों ने सहभागिता ली। महिला बाल विकास से मुख्य वक्ता के रूप में नन्दा नन्दन सारंगी ने ग्रामीण महिलाओं को सितम्बर पोषण माह के बारे में जानकारी देते हुए बच्चे के 1000 दिवस तक गभर्वती माता व बच्चों की होने वाली जांच व स्वास्थय परीक्षण, टीकाकरण, आयरन के बारे में बताया तथा अपने आसपास उपस्थित भोजन सब्जी, फल का व स्वच्छता का उपयोग कर एनिमिया, डायरिया, कुपोषण से बचने का उपाय बताया। पौष्टिक आहार, तिरंगा भोजन का समावेश कर सुपोषित होने के लिये हर घर में मुनगा का पेड़ लगाने का संकल्प भी दिलवाया।

कार्यक्रम के दौरान महिला बाल विकास विभाग रीता लारिया ने 'गुड टच बैड टच' के द्वारा बच्चों की सुरक्षा को ध्यान रखने के संबंध में जानकारी दी गई। घोटिया ग्राम की सुपरवाइजर सुशीला मंडावी ने सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देते हुए किशोरी बालिकाओं को चेक कर कुपोषित व सुपोषित बच्ची का वजन व ऊंचाई से नापकर बताया।

कार्यक्रम में विभिन्न प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया। इसमें ग्रामीणों एवं बालक-बालिकाओं द्वारा रंगोली, कुर्सी दौड़, मेहंदी, चित्रकला, मटकाफोड, नृत्य में भाग लिया गया। इसी के साथ प्रश्नमंच का भी आयोजन किया गया तथा विभिन्न योजनाओं संबंधी प्रश्न कर सही उत्तर देने वालों को पुरस्कार प्रदान किए गए। नाटक मंडली द्वारा गीत-नाटक की प्रस्तुति दी गई।

कार्यक्रम के अंत में भव्य रैली का आयोजन कर विभाग द्वारा ग्रामीणों को प्रचार प्रसार सामग्री वितरित की गई एवं बैनर तख्तियों के माध्यम से पोषण जागरूकता अभियान योजना एवं विभिन्न आदि विषयों पर नारे लगाकर गांव के प्रमुख मार्गो से भ्रमणकर कार्यक्रम स्थल पर रैली का समावेश किया गया। कार्यक्रम में सभी ग्रामवासी, आंगनबाड़ी के सभी कार्यकर्ता व महिलाएं उपस्थित हुई। फिल्ड आउटरीच ब्यूरो से श्वेता शर्मा, द्वारा कार्यक्रम गतिविधियों का आयोजन व संचालन किया गया।